कहीं कैम्पिंग कार के चक्कर में न कट जाए आपका चालान, गाड़ी में बदलाव करने से पहले जान लें ये नियम

| Nov 30 2022, 01:31 PM IST

कहीं कैम्पिंग कार के चक्कर में न कट जाए आपका चालान, गाड़ी में बदलाव करने से पहले जान लें ये नियम

सार

कैम्पिंग के शौकीन कम बजट में कैम्पिंग वैन बनाने के लिए जाने-अनजाने में कई गैरकानूनी काम करने लगे हैं, जो उन्हें मुसीबत में डाल सकता है।

ट्रेंडिंग डेस्क. इन दिनों युवाओं को कैम्पिंग (Camping) का जमकर शौक चढ़ा है। अलग-अलग डेस्टिनेशन पर सुख-सुवधाओं से लैस वाहन लेकर जाना और उनमें आराम फरमाना कौन नहीं चाहेगा पर इसके लिए अपनी कार या वैन में मॉडिफिकेशन करना आपको भारी भी पड़ सकता है। कई लोग कैम्पिंग के चक्कर में ये गैरकानूनी काम कर रहे हैं। ऐसे में इस शौक को पूरा करने के लिए इससे जुड़े नियम जरूर जान लें।

कट सकता है बड़ा चालान

Subscribe to get breaking news alerts

अक्सर कई लोग कैम्पिंग के लिए पहले से ही बनाई गई कैम्पर वैन (Camper Van) या कारें रेंट पर लेते हैं। लेकिन कुछ लोग इस शौक को पूरा करने के लिए अपनी पर्सनल कार या वैन में बदलाव कर उसे कैम्पिंग लायक बना लेते हैं। लेकिन आरटीओ (RTO) से इजाजत लिए बिना ऐसा करना गैरकानूनी है। ऐसे में अगर आपका वाहन पकड़ा जाता है, तो आपको आरटीओ नियमों के तहत बड़ा जुर्माना भरना पड़ सकता है।

गाड़ी में बदलाव को लेकर आरटीओ के नियम

आरटीओ के ये नियम हर राज्य में समान रूप से लागू होते हैं। इसके मुताबिक वाहन के स्ट्रक्चर व चेसिस में बदलाव करने से पहले आरटीओ से परमिशन लेना अनिवार्य है। इसके अलावा अगर आप वाहन में सीएनजी किट, एलपीजी किट, किचन सेट या सोलर पैनल लगवा रहे हैं, तो इसकी जानकारी भी आपको आरटीओ को देनी जरूरी है और नियमों के तहत इजाजत लेना अनिवार्य है। बता दें कि आजकल कैम्पिंग के शौकीन कम बजट में कैम्पिंग वैन बनाने के लिए अपनी पर्सनल कार के चेसिस, स्ट्रक्चर से लेकर उसके इंटीरियर में कई बदलाव करते हैं। कई लोग कार में कुकिंग के लिए बड़े गैस सिलिंडर भी फिट कर लेते हैं, जो गैरकानूनी है। 

रद्द हो सकता है रजिस्ट्रेशन

आरटीओ के मुताबिक ऐसे किसी भी नियम का उल्लंघन करने पर वाहन मालिक के खिलाफ कार्रवाई की जाती है, साथ ही जिस वाहन में नियम विरुद्ध बदलाव किए गए हों उसे अनफिट मानकर उसका रजिस्ट्रेशन भी रद्द कर दिया जाता है। ऐसे में कैम्पिंग के शौकीनों को अपने वाहन में होने वाले सभी बदलावों की जानकारी पहले ही आरटीओ में देकर एनओसी प्राप्त कर लेनी चाहिए।

ये बदलाव भी गैरकानूनी

  • टायर के साइज में बदलाव
  • अत्यधिक तेज आवाज वाले हॉर्न
  • नियम विरुद्ध लाइटों का प्रयोग
  • तेज आवाज के लिए साइलेंसर में बदलाव
  • गाड़ी की नंबर प्लेट में बदलाव

यह भी पढ़ें : बेंगलुरु में आउटर रिंग रोड को लेकर लागू होगी नई ट्रैफिक व्यवस्था, हो सकते हैं ये बदलाव

अन्य ट्रेंडिंग आर्टिकल्स पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...