Asianet News Hindi

Kapil Sharma से हुई 5 करोड़ की ठगी, दिलीप छाबड़िया ने की बेइमानी तो शिकायत लेकर पुलिस के पास पहुंचे

कॉमेडियन कपिल शर्मा (kapil Sharma) को मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच (Mumbai Police Crime Branch) द्वारा सीज की गई गाड़ियों के फर्जी रजिस्ट्रेशन मामले में पूछताछ के लिए समन जारी किया गया था। सेंट्रल इंटेलिजेंस यूनिट के API सचिन वाजे ने उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया था।

Comedian Kapil Sharma mumbai police crime branch inquiry over fake registered cars alleged Car designer dilip chhabaria Read Details KPY
Author
Mumbai, First Published Jan 8, 2021, 8:07 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. कॉमेडियन कपिल शर्मा (kapil Sharma) को मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच (Mumbai Police Crime Branch) द्वारा सीज की गई गाड़ियों के फर्जी रजिस्ट्रेशन मामले में पूछताछ के लिए समन जारी किया गया था। सेंट्रल इंटेलिजेंस यूनिट के API सचिन वाजे ने उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया था। कपिल CIU दफ्तर में अपना बयान दर्ज कराने के बाद यहां से रवाना हो गए हैं। उन्होंने कार डिजाइनर दिलीप छाबड़िया (Dilip Chhabaria) के खिलाफ अपना बयान दर्ज किया है। कपिल ने वैनिटी वैन को लेकर दर्ज कराया बयान... 

कपिल शर्मा ने वैनिटी वैन को लेकर बयान दर्ज कराया। उन्होंने कहा कि कपिल ने दिलीप छाबड़िया से उनकी वैनिटी वैन डिजाइन करने के लिए कहा था, लेकिन बावजूद पेमेंट किए जाने के उन्होंने कपिल की गाड़ी डिलीवर नहीं की। कपिल शर्मा द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक उन्होंने दिलीप को साढ़े पांच करोड़ वैनिटी वैन डिजाइन करने के लिए दिए थे। 

 

कपिल ने दिलीप पर लगया था फ्रॉड का आरोप 

बता दें कि कपिल ने दिलीप छाबड़िया पर फ्रॉड करने का आरोप लगाया था, जिसके बाद मुंबई पुलिस ने उन्हें बतौर विटनेस (गवाह) उनका बयान दर्ज करवाने के लिए बुलाया गया था। कपिल ने इस दौरान बताया था कि 'उन्होंने दिलीप छाबड़िया और उनके स्कैम के बारे में अखबार में पढ़ा था, जिसके बाद उन्होंने मुंबई पुलिस कमिश्नर से मिलने का फैसला किया था। उन्होंने पुलिस को बताया था कि उन्होंने दिलीप को उनके लिए एक वैनिटी वैन डिजाइन करने के लिए कहा था, जिसके लिए कॉमेडियन ने उसे पूरी पेमेंट की थी।'

यह भी पढ़ें: नहीं बैन होगा टीवी सीरियल 'नमक इश्क का', हाइकोर्ट ने मांग खारिज करते हुए कही ये बात

पहले भी शिकायत दर्द करा चुके हैं कपिल 

कपिल ने आगे बताया कि 'दिलीप ने पेमेंट के बाद भी गाड़ी की डिलीवरी नहीं कराई। इसके लिए उन्होंने पहले इकॉनमिक ऑफेंस विंग (आर्थिक अपराध शाखा) में भी शिकायत दर्ज कराई थी। कॉमेडियन ने खुशी जताई कि छाबड़ा जैसे लोग गिरफ्तार हो रहे हैं। ऐसे बहुत से सफेदपोश लोग हैं, जो ऐसी आपराधिक प्रवृतियों में लिप्त हैं।' कपिल ने कहा कि 'उन्हें इस पूरी धनराशि के बारे में नहीं पता है। इसके बारे में उनके अकाउंटेंट को ज्यादा पता होगा।'

यह भी पढ़ें: 13 साल पहले ऐसे दिखते थे Pawan Singh, सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही उनकी ये फोटो

इस तरह से किया गया था पूरा लेनदेन

कपिल शर्मा ने दिलीप छाबड़िया को साढ़े पांच करोड़ रुपए  अपनी वैन डिजाइन करने के लिए मार्च 2017 और 2018 में दिए थे। जुलाई 2018 में दिलीप ने 40 लाख रुपए की डिमांड और की क्योंकि जीएसटी लगना शुरू हो गया था। इसके बाद कपिल शर्मा NCLT के पास पहुंचे। जिन्होंने दिलीप के अकाउंट फ्रीज कर दिए। इसके बाद दिलीप फिर से कपिल के पास पहुंचे और उन्होंने इस दौरान एक बार फिर से उनसे 60 लाख रुपए की डिमांड की, लेकिन गाड़ी फिर भी डिलीवर नहीं की गई। 

यह भी पढ़ें: काम्या पंजाबी ने नहीं किया छोटी बहू का सपोर्ट तो भड़के लोग, एक्ट्रेस ने भी ट्रोलर्स को दिया करारा जवाब

डीसी ने 12-13 लाख रुपए भेजा बिल 

इसके बाद कपिल शर्मा ने कहा कि डीसी ने उन्हें 12-13 लाख रुपए बिल के रूप में व्हीकल पार्किंग के लिए भेज दिया। सितंबर 2020 में कपिल शर्मा ने EOW से शिकायत की और बीते दिन आखिरकार कॉमेडियन ने आखिरी फैसला लिया। कपिल ने ये भी बताया कि उन्होंने इस मामले में एक अलग से शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने 5.30 करोड़ रुपये और बाद में 40 लाख रुपये डीसी को दिए थे। बाद में मांगे गए 60 लाख उन्होंने डीसी को नहीं दिए।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios