Asianet News Hindi

लापता वकील के घरवालों को आया फोन, बोला चालाक मत बनो, 50 लाख का इंतजाम करो

आगरा के सिकंदरा क्षेत्र से अधिवक्ता के अपहरण का मामला सामने आने के बाद पुलिस के होश उड़ गए हैं। अभी तक संदिग्ध परिस्थितियों में गायब अधिवक्ता को तलाश रही पुलिस को जब फिरौती मांगने की जानकारी हुई तो सारा माजरा सामने आ गया। पुलिस की कई टीमें अधिवक्ता की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही हैं

50 lakhs ransom demanded from brother of missing lawyer in agra kpl
Author
Agra, First Published Feb 7, 2020, 9:58 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

आगरा (Uttar Pradesh ). आगरा के सिकंदरा क्षेत्र से अधिवक्ता के अपहरण का मामला सामने आने के बाद पुलिस के होश उड़ गए हैं। अभी तक संदिग्ध परिस्थितियों में गायब अधिवक्ता को तलाश रही पुलिस को जब फिरौती मांगने की जानकारी हुई तो सारा माजरा सामने आ गया। पुलिस की कई टीमें अधिवक्ता की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही हैं। 

बता दें बीती 3 फरवरी को फिरोजाबाद के मोहल्ला राजपूताना निवासी एडवोकेट अकरम अंसारी आगरा के सदर तहसील में अपने परिचितों से मिलने आए थे, उनके रिश्तेदारों ने उन्हें कारगिल पेट्रोल पंप के पास आटों में बिठा दिया, इसके बाद से कोई पता नहीं चला है। पहले पुलिस अधिवक्ता की तलाश कर रही थी। लेकिन अब अधिवक्ता के भाई के पास फिरौती के लिए फोन आने से पुलिस के होश उड़ गए हैं। 

भाई के पास आई फिरौती के लिए काल 
अधिवक्ता अकरम अंसारी के भाई असलम अंसारी के पास बदमाशों ने अधिवक्ता को छोड़ने के एवज में 50 लाख रूपए की फिरौती मांगी है। इसके बाद अधिवक्ता अकरम के परिवार में हड़कंप मचा हुआ है। पुलिस भी सूचना पाने के बाद से परेशान है। शुरुआती जांच में ये सामने आया है कि राजस्थान के गैंग द्वारा ये फोन कॉल किया गया है। पुलिस टीम अधिवक्ता की तलाश में लगी है। 

इससे पहले भी हो चुकी है अपहरण की वारदात 
आगरा में अपहरण की कई वारदातें इसके पहले भी सामने आ चुकी हैं। गिरोह के सरगना अपने सदस्यों की मदद से अपहरण को अंजाम देते हैं और फिरौती वसूलने के बाद अपहृत को छोड़ दिया जाता है। पुलिस ने ऐसे गिरोह के कई बदमाशों को पकड़कर जेल भी भेजा है।  

आईजी गंभीर, बनाई टीमें
आईजी रेंज ए सतीश गणेश को घटना की जानकारी गुरुवार की सुबह थानों की क्राइम रिपोर्ट देखने पर हुई। उन्होंने घटना को गंभीरता से लिया। एसएसपी बबलू कुमार, एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद, एसपी पश्चिम रवि कुमार से बातचीत की। टीमें बनाईं। फिलहाल पुलिस खामोश है। कुछ बताने को तैयार नहीं। चर्चा है कि अधिवक्ता के परिजनों ने भी पुलिस से संपर्क तोड़ दिया है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios