योगी सरकार 2.0 के शपथग्रहण में हुई अव्यवस्थाओं के बाद कई अधिकारियों पर गिर सकती है गाज, मांगी गई रिपोर्ट

| Mar 27 2022, 03:55 PM IST

योगी सरकार 2.0 के शपथग्रहण में हुई अव्यवस्थाओं के बाद कई अधिकारियों पर गिर सकती है गाज, मांगी गई रिपोर्ट

सार

योगी सरकार 2.0 के शपथग्रहण के दौरान हुई अव्यवस्थाओं को लेकर रिपोर्ट मांगी गई है। समीक्षा बैठक के बाद माना जा रहा है कि कई अधिकारियों पर एक्शन हो सकता है। कार्यक्रम के दौरान कई वीवीआईपी को इन अव्यवस्थाओं के चलते ही पैदल चलना पड़ा था। 

लखनऊ: योगी सरकार 2.0 के शपथग्रहण समारोह के दौरान ट्रैफिक व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त रही। इसको लेकर समीक्षा बैठक रविवार को होगी। डीजीपी मुकुल गोयल ने लखनऊ कमिश्नर डीके ठाकुर समेत कई वरिष्ठ अधिकारियों को इसको लेकर तलब किया है। माना जा रहा है कि ट्रैफिक बदइंतजामी को लेकर कई अधिकारियों पर गाज गिर सकती है। 

गौरतलब है कि अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में शुक्रवार को योगी सरकार के शपथग्रहण के दौरान जमकर अव्यवस्था देखी गई। इस दौरान सामने आई बदइंतजामी ने कई अधिकारियों की चिंता को बढ़ा दिया। गृहमंत्री अमित शाह, बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत कई वीवीआइपी की सुरक्षा में चूक देखी गई। जिसके बाद पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर भी सवाल खड़े हुए। इस मामले को शीर्ष स्तर के अधिकारियों ने गंभीरता से लिया है। 

Subscribe to get breaking news alerts

वरिष्ठ अधिकारियों से तलब की गई रिपोर्ट 
मामले को लेकर मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने रिपोर्ट तलब की। इसके बाद वह रविवार को अवकाश के दिन गृह औऱ पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगे। इसको लेकर डीजीपी मुकुल गोयल ने लखनऊ कमिश्नर डीके ठाकुर से भी रिपोर्ट मांगी है। सवाल किया गया है कि बड़े पैमाने पर हुई तैयारियों के बावजूद भी क्यों व्यवस्था बेपटरी हुई। 

कई वीवीआईपी को चलना पड़ा पैदल 
व्यवस्थाओं के चरमराने के बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, कर्नाटक और अन्य राज्यों के सीएम को कार्यक्रम स्थल तक पहुंचने से पहले काफी दूर पैदल चलना पड़ा। इसके बाद नेताओं की नाराजगी भी सामने आई थी। इसके चलते ही जिम्मेदार अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी गई है। 

कई अधिकारियों पर गाज गिरने की उम्मीद 
इस बैठक के बाद माना जा रहा है कि कई जिम्मेदार अधिकारियों पर गाज गिर सकती है। अधिकारी लगातार इस कवायद में लगे हुए हैं कि इस अव्यवस्था के जिम्मेदार अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को सबक सिखाया जाए। इसी कड़ी में कई वरिष्ठ अधिकारियों पर भी एक्शन हो सकता है। 

बेबी रानी मौर्य ने स्वामी प्रसाद पर बोला हमला, कहा- अवसर खोजने वाले भाजपा में जल्द एक्सपोज हो जाते हैं

अदिति सिंह के लिए फायदेमंद नहीं रही कांग्रेस से बगावत और भाजपा में एंट्री, जानिए क्या है वजह

 
Read more Articles on