Asianet News Hindi

शादी के दो साल बाद बनी मां, पति ने कहा-जब सुहागरात तक नहीं मनाया कैसे हो गया बच्चा

पीड़िता को किराए के कमरे में छोड़कर चला गया और अपने घरवालों के साथ रहने लगा। कई बार उसने अपने पति और ससुराल के लोगों को समझाया। लेकिन, वह नहीं माने। इस पर पीड़िता ने इज्जतनगर थाने में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

After two years of marriage, mother becomes, husband says - this is not my baby asa
Author
Bareilly, First Published Dec 15, 2020, 4:53 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बरेली (Uttar Pradesh)। शादी के बाद पति ने दो दिन तक सुहागरात नहीं मनाई। दो साल बाद जब बच्चा हुआ तो पति ने चरित्र पर ही सवाल खड़ा कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उसने कहा कि जब सुहागरात तक नहीं मनाई तो बच्चा कैसे हो गया। वहीं, पीड़िता का कहना है कि दहेज कम देने की वजह से शुरु से ही ससुराल वाले उसे बदनाम करने में लगे हैं। फिलहाल, उसने अब पति समेत ससुरालियों पर दहेज उत्पीड़न का केस दर्ज कराया है। यह घटना इज्जतनगर थाना क्षेत्र के प्रेमनगर की है।

सास से शिकायत पर बनाया संबंध
प्रेमनगर निवासी पीड़िता ने बताया कि उसकी शादी नवंबर 2017 में इज्जतनगर क्षेत्र के एक युवक से हुई थी। आरोप है कि पति ने शादी के दो दिन तक उसके साथ सुहागरात भी नहीं मनाई। शादी के बाद ससुराल वाले दहेज के लिए परेशान करने लगे थे। जिसकी शिकायत उसने अपनी सास से की थी। इसके बाद उसके पति के साथ सबंध बने।

शराब पीकर करता था मारपीट
पता चला कि ससुराल वालों ने उसके पति को जमीन जायदाद से बेदखल कर रखा है। उसके बाद पति उसे किराए के कमरे में लेकर रहने लगा। पति शराब पीकर दहेज के लिए मारपीट करता था। जब वह मां बनी तो पति ने उसके चरित्र पर सवाल खड़ा करते हुए कहने लगा कि बच्चा उसका नहीं है।

आखिर में दर्ज करना पड़ा केस
पीड़िता को किराए के कमरे में छोड़कर चला गया और अपने घरवालों के साथ रहने लगा। कई बार उसने अपने पति और ससुराल के लोगों को समझाया। लेकिन, वह नहीं माने। इस पर पीड़िता ने इज्जतनगर थाने में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।

(प्रतीकात्मक फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios