Asianet News HindiAsianet News Hindi

'झूलते' हुए आई मौत: दुकान पर था भाई और तीसरी मंजिल पर थी बेटी, हुआ कुछ ऐसा की निकली मां की चीख

यूपी के अलीगढ़ में झूला झूलते समय एक किशोरी की मौत हो गई। परिजनों ने बताया कि किशोरी घर की छत पर अकेली थी और उसका भाई दुकान पर मौजूद था। मां भी किसी काम से बाहर गई हुई थी। 

aligarh teenager dies while swinging mother who reached terrace saw daughter hanging from the noose
Author
First Published Oct 29, 2022, 10:31 AM IST

अलीगढ़: जरतौली रोड पर स्थित भगवती सरला पालीवाल इंटर कॉलेज के पास शुक्रवार की शाम को झूला झूलते हुए एक किशोरी की मौत हो गई। दरअसल किशोरी के गले में रस्सी का फंदा कस गया था और किशोरी फंदे पर झूल गई। घटना के कुछ देर बाद जब मां छत पर पहुंची तो झूले की रस्सी से लटकी बेटी का शव देखकर उनकी चीख निकल पड़ी। बच्ची को इस हाल में देख आसपास के लोग भी दंग रह गए। 

झूला झूलने के दौरान हुआ हादसा 
आनन-फानन में परिवारवाले और कस्बे के लोग बेटी को लेकर निजी अस्पताल पहुंचे, हालांकि उससे पहले ही किशोरी की मौत हो चुकी थी। बेटी की मौत के बाद माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। आपको बता दें कि कस्बे के जरतौली रोड निवासी रन सिंह की 14 वर्षीय पुत्री अदिति कस्बे के ग्लोबल स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ती थीं। शुक्रवार की शाम को तकरीबन 5 बजे जब परिवार के लोग पशुओं के लिए चारा लेने गए थे और बड़ा भाई दुकान पर बैठा था तभी अदिति घर की तीसरी मंजिल पर झूला झूलने पहुंच गई। झूला झूलने के दौरान लकड़ी की पटली फिसलने से रस्सी का फंदा उसके गले में फंस गया। इसके बाद वह रस्सी से लटक गई। 

तीसरी मंजिल पर पहुंची मां ने बेटी को फंदे से लटकते देखा
वहीं इस बीच चारा लेकर लौटने के कुछ देर बाद मां नीलम तीसरी मंचिल पर पहुंची। उन्होंने देखा कि बेटी का शरीर रस्सी के फंदे से लटका हुआ है। परिजनों ने बताया कि बेटी को इस हाल में देख उसे बचाने का काफी प्रयास किया गया लेकिन सफलता नहीं मिली। बेटी को आनन-फानन में अस्पताल लेकर जाया गया जहां उसे डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। देर शाम बेटी के शव का अंतिम संस्कार परिजनों के द्वारा कर दिया गया है। इस घटना के बाद से परिजनों में शोक का माहौल है। 

जानिए कौन हैं आकाश सक्सेना, जिनकी शिकायत पर चली गई आजम खां की विधायकी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios