Asianet News HindiAsianet News Hindi

अंबेडकरनगर में घरेलू हिंसा से परेशान महिला ने किया पति का ऐसा हाल, 4 बच्चों के सिर से उठा मां-बाप का साया

छत्तीसगढ़ से अपने परिवार के साथ रोजी रोटी कमाने आए नन्हें की उसकी पत्नी ने लकड़ी के फट्टे से पीट-पीटकर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि नन्हें को शराब की लत लगी थी। जिसके कारण आए दिन दोनों में मारपीट होती रहती थी।

Ambedkarnagar woman troubled by domestic violence did such condition her husband shadow of parents raised from heads of 4 children
Author
Lucknow, First Published Aug 12, 2022, 2:21 PM IST

अंबेडकरनगर: नशे का आदी व्यक्ति अपने परिवार में कलह का कारण बन जाता है। नशा न सिर्फ स्वास्थ्य बल्कि एक खुशहाल जिंदगी को भी निगल जाता है। अक्सर नशे की हालत में होने वाले अपराधों के बारे में सुनने को मिलता है। नशा घरेलू हिंसा को भी बढ़ावा देता है। ऐसा ही एक मामला उत्‍तर प्रदेश के अंबेडकरनगर में सामने आया है। जहां पर घरेलू कलह से परेशान महिला ने अपने पति की लकड़ी के फट्टे से पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी है।

पति को थी नशे की लत
छत्तीसगढ़ प्रांत के बिलासपुर जिले के एक गांव निवासी नन्हे हसंवर के महमदपुर साबुकपुर स्थित पीके ईंट मार्का भट्ठा पर मजदूरी करता था। नन्हू अपनी पत्नी पुनीता और चार बच्चों के साथ वहीं रहता था। नन्हें शराब का आदी था जिसकी वजह से उन दोनों के बीच आए दिन झगड़ा व मारपीट होती थी। घटना के दिन भी नन्हे की अपनी पत्नी से झगड़ा हुआ था। रोज-रोज के झगड़े से परेशान पुनीता ने झगड़े के बीच में ही अपने पति को लकड़ी के फट्टे से पीटना शुरू कर दिया। 

पीट-पीटकर की पति की हत्या 
पुनीता ने अपने पति के सिर पर कई बार प्रहार किया, जिससे कि उसका सिर फट गया। चीखपुकार सुन आसपास के लोग मौके पर इकठ्ठा हो गए और घायल पड़े नन्हें को सीएचसी अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि पति को मारने के बाद पुनीता वहीं खड़ी रही। नशे का आदि पति उसके साथ आएद‍िन मारपीट करता था, ज‍िससे परेशान होकर उसने इतना बड़ा कदम उठाया। हांलाकि पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। 

बच्चों के सिर से उठा मां-बाप का साया
आरोपित महिला ने पुलिस को बताया कि शराब के नशे में धुत होकर उसका पति आए दिन मारपीट करता था। जिससे वह परेशान हो चुकी थी। वहीं आसपास के लोगों ने बताया कि नन्हें तीन महीने पहले अपने परिवार सहित यहां मजदूरी करने के लिए आया था। पुलिस ने हत्या में उपयोग की गई लकड़ी के फट्ठे को अपने कब्जे में ले लिया है और महिला के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। थानाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह के अनुसार, मृतक नन्हें के परिजनों को घटना की सूचना दे दी गई है। चारों नाबालिग बच्चों को परिवार के सुपुर्द कर दिया जाएगा। 

गोरखपुर में झोलाछाप डॉक्टर ने 11वीं की छात्रा से की दरिंदगी, जानें क्या है पूरा मामला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios