गाजियाबाद (Uttar Pradesh) । कोरोना वायरस का खौफ लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। लॉक डाउन की घोषणा के बाद लोग जहां हैं वहीं रहने को मजबूर हैं। लोग अति आवश्यक कार्यों के लिए भी दूर नहीं जा पा रहे हैं। इस वजह से एक जोड़े को निकाह वीडियो कांफ्रेंसिंग से शादी करना पड़ा। दरअसल साहिबाबाद का निवासी दूल्हा दानिश रजा बिहार की दुल्हन सादिया नसरीन से शादी अनोखे तरीके हुई। काजी ने पहले लड़की से दानिश से निकाह करने की इजाजत ली। इजाजत मिलने के बाद काजी ने दानिश का निकाह पढ़ाया। 

यह है पूरा मामला
पटना के समनपुरा के रहने वाले मरहूम हाजी मुहम्मद अलाउद्दीन की बेटी सादिया नसरीन का निकाह साहिबाबाद निवासी सैमुदुल हसन के बेटे दानिश रजा के साथ 23 मार्च को होनी थी और शादी की सारी तैयारियां हो चुकी थीं। पटना के हारून नगर में कम्युनिटी हॉल भी बुक हो चुका था और नाते-रिश्तेदारों को निमंत्रण पत्र भी भेजा जा चुका था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण पटना में लॉकडाउन हो गया और गाजियाबाद में भी। ऐसे में दोनों परिवारों ने नया तरीका आजमाया और ऑनलाइन शादी करवाई।

वायरल हो रहा वीडियो
इस शादी का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें दिख रहा है कि दुल्हन के घर के लोग स्क्रीन के सामने जमा हैं। दूसरी ओर दूल्हा बैठा है। काजी के पूछने पर दोनों ने निकाह कबूल किया।

इस कारण किया ऐसा
शादी करने वाले जोड़े के परिवारों ने डिजिटल इंडिया का विकल्प चुनकर कोरोना से लड़ाई का नया रास्ता सुझाया है। ताकि तय समय पर होने वाले काम डिजिटल प्लेटफार्म से हो सकें। बता दें कि कोरोना वायरस के चलते पूरे देश को 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है। ऐसे सामाजिक धार्मिक आयोजनों के लिए लोगों के जुटने पर रोक लगी है।