Asianet News HindiAsianet News Hindi

उद्धव ठाकरे का ऐलान, राम मंदिर के लिए देंगे 1करोड़, महाराष्ट्र के श्रद्धालुओं के लिए मांगी अयोध्या में जमीन


महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का विरोध करने वाले संत महंत व हिंदू महासभा के जिला अध्यक्ष राकेश धर मिश्रा को उनके आवास पर ही नजरबंद किया गया है। आवास के बाहर पुलिस तैनात है। हिंदू महासभा के ही महंत परशुराम दास भी नजरबंद किए गए हैं।

Ayodhya: Chief Minister of Maharashtra, Uddhav Thackeray, will bow in Ramlala's court today ASA
Author
Ayodhya, First Published Mar 7, 2020, 8:23 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अयोध्या (Uttar Pradesh)। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अपने सरकार के सौ दिन पूरे होने पर आज अयोध्या में रामलला के दर्शन करने आए हैं। यहां मीडिया से बातचीत करते हुए सीएम ने कहा कि मैं भाजपा से अलग हुआ हूं, हिंदुत्व से नहीं। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए मैं अपनी ओर से एक करोड़ रुपए दान दूंगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अपील करता हूं कि महाराष्ट्र से आने वाले भक्तों के लिए हमें भवन निर्माण करने जमीन ।

कोरोना के कारण नहीं करेंगे सरयू की आरती
मुख्यमंत्री ठाकरे का सरयू आरती में शामिल होने और जनसभा का भी कार्यक्रम हो गया है। यह कार्यक्रम कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय की एडवाइजरी के बाद भीड़ जुटने वाले कार्यक्रमों को देखते हुए रद्द कर दिया गया। वहीं, उद्धव के दौरे को लेकर प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है। राम जन्मभूमि के आस-पास की सुरक्षा बढ़ा दी गई। हालांकि महाराष्ट्र के सीएम ने कहा कि मैं फिर आऊंगा और आरती करूँगा। कल ही मुझे पता चला ही राम मंदिर ट्रस्ट का बैंक अकाउंट खुल गया है। 

परिवार के साथ करेंगे रामलला का दर्शन 
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री तथा शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे अपनी पत्नी तथा सामना की संपादक रश्मि ठाकरे और बेटे आदित्य ठाकरे के साथ रामलला के दर्शन करेंगे। उद्धव ठाकरे सरकार के मंत्री व 40 विधायक, 20 सांसद भी रामलला का दर्शन करेंगे। उनका दर्शन का समय सायं 4:30 बजे प्रस्तावित है। 

हिंदू महासभा के जिला अध्यक्ष समेत कई नजरबंद 
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का विरोध करने वाले संत महंत व हिंदू महासभा के जिला अध्यक्ष राकेश धर मिश्रा को उनके आवास पर ही नजरबंद किया गया है। आवास के बाहर पुलिस तैनात है। हिंदू महासभा के ही महंत परशुराम दास भी नजरबंद किए गए हैं। तपस्वी छावनी के संत परमहंस को उनके आश्रम में नजरबंद किया गया है। इसके साथ ही हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास को भी नजरबंद किया गया है। यह सभी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के अयोध्या दौरे के दौरान विरोध कर रहे थे। इन्‍होंने काला झंडा दिखाने का ऐलान भी किया था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios