अयोध्या. राम की नगरी अयोध्या में ऐतिहासिक रामलीला को मंचन नवरात्रि के पहले दिन यानी शनिवार शाम से शुरू हो गया। 25 अक्टूबर तक चलने वाली अयोध्या की रामलीला में अपना-अपना किरदार निभाने फिल्म जगत के तमाम दिग्गज कलाकार मुंबई से अयोध्या आए हैं। कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए अयोध्या की रामलीला वर्चुअल तरीके से हो रही है। इसका लाइव प्रसारण भी कराया जा रहा है। रामलीला मंचन के दौरान दर्शकों की संख्या बहुत कम रखी जा रही है।

अयोध्या की इस ऐतिहासिक रामलीला की तैयारियां काफी समय से चल रही हैं। इसको लेकर अभिनेता व सांसद मनोज तिवारी तथा रवि किशन कई बार मीडिया से रूबरू हो चुके हैं। अयोध्या की इस रामलीला में किरदार निभाने के लिए कई फ़िल्मी हस्तियां अयोध्या आ गई हैं। इसमें प्रमुख रूप से हनुमान की भूमिका बिंदु दारा सिंह निभाएंगे। इनके पिता दारा सिंह चर्चित रामायण सीरियल में हनुमान जी का किरदार निभा चुके हैं और इसके पहले बिंदु दारा सिंह भी दिल्ली की रामलीला में हनुमान का किरदार निभाते आ रहे हैं। फिल्म जगत के जाने-माने कॉमेडियन एक्टर असरानी नारद का किरदार निभाएंगे तो गोरखपुर के सांसद और जाने-माने भोजपुरी एक्टर रवि किशन भरत की भूमिका में नजर आएंगे।

भोजपुरी फिल्मों से राजनीति में आए दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी अंगद के किरदार में दिखाई देंगे। इसके अलावा रितु शिवपुरी, शाहबाज खान, राजेश पुरी, अवतार गिल, रजा मुराद, महाभारत में द्रोणाचार्य का किरदार निभाने वाले सुरेंद्र पाल अलग-अलग भूमिका में नजर आएंगे। राम की भूमिका सोनू डांगर निभाएंगे, तो माता सीता के रूप में नजर कविता जोशी आएंगी।

ससुराल से आई है श्रीराम चंद्र की पोशाक 
इस रामलीला की एक और खास बात है कि भगवान राम के चरित्र को मंच पर साकार करने के लिए उनकी पोशाक नेपाल से आई है, क्योंकि नेपाल को भगवान राम की ससुराल कहा जाता है जबकि माता-पिता के गहने अयोध्या के तैयार हुए हैं क्योंकि कन्या के लिए वस्त्र और जेवर उसकी ससुराल से आते हैं इसलिए इनका निर्माण अयोध्या में हुआ है। इसी तरह भगवान राम का धनुष गुरु क्षेत्र से तैयार होकर आया है।