Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP News: बाहुबली विधायक विजय मिश्रा ने योगी सरकार को बताया ब्राह्मण विरोधी, भगवान राम पर दिया विवादित बयान

भदोही के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा  ने योगी सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि भगवान राम को मानने वाले को नही पता भगवान राम किस जाति के थे। भगवान राम उनके साथ है जो ब्रहामणों के साथ है ओर मौजूदा सरकार ब्राह्मण के साथ नहीं है। भगवान राम क्षत्रिय नही बल्कि विष्णु के स्वरूप है। 

Bahubali MLA Vijay Mishra told the Yogi government that he was anti Brahmin gave controversial statement on Lord Ram
Author
Varanasi, First Published Dec 3, 2021, 12:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वारणसी: उत्तर प्रदेश के भदोही के बाहुबली विधायक विजय मिश्रा (Vijay Mishra) की गुरुवार को वाराणसी सिविल जज जूनियर डिवीजन सेकेंड की अदालत में पेशी हुई। विधायक को पेशी के दौरान कड़ी सुरक्षा में आगरा जेल से वाराणसी लाया गया। इस दौरान विजय मिश्रा ने योगी सरकार (Yogi Government) पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि भगवान राम को मानने वाले को नही पता भगवान राम किस जाति के थे। भगवान राम उनके साथ है जो ब्रहामणों के साथ है ओर मौजूदा सरकार ब्राह्मण के साथ नहीं है। भगवान राम क्षत्रिय नही बल्कि विष्णु के स्वरूप है। रावण ने जब जाना कि दशरथ के पुत्र उनको मारेंगे तो उसने राजा दशरथ को नपुंसक बना दिया था। 

'सरकार झूठे मुकदमे में फंसाने का कर रही प्रयास'

विधायक विजय मिश्रा ने कहा कि उनको और उनके पूरे परिवार को झूठे केस में फंसाया गया। सरकार खुद को भयमुक्त समाज की श्रेणी में रखती है। यह दिखाने के लिए कुछ ना कुछ करेगी ही, मैं किसी भी सरकार के सामने घुटने टेकने वाला नहीं, भले ही गर्दन कट जाए। मैंने गलत का हमेशा विरोध किया है, किसी का भी पैसा नहीं लिया है, ना ही खाया है। गृह मंत्री अमित शाह ने आईबी से डेढ़ साल पहले जांच कराई थी। मेरे ऊपर किसी भी प्रकार की कोई देनदारी नहीं है और रंगबाजी, गुंडा टैक्स संबंधी कोई आपराधिक मुकदमा नहीं है। सरकार ने झूठे मुकदमे में फंसाया है ताकी चुनाव नहीं लड़ सकूं। सरकार ने मेरे बेटे को आतंकवादी बनाया है। मैं संपत्ति किसी को भी देने को तैयार हूं।

विधायक ने कहा कि हिंदू राष्ट्र, हिंदू युवा वाहिनी कहां से पनपती है? देश विभाजन के समय सबसे ज्यादा हिंदू मारे गए, हिंदुओ को मारकर आप हिंदू राष्ट्र नहीं बना सकते. पुलिस कस्टडी में कहीं विश्वकर्मा को मारा जा रहा तो पालघर में साधुओं की हत्या हो रही है। विकास दुबे को मार दिया गया। काशी विश्वनाथ नगरी है. यहां से हर महीने 30 से 40 करोड़ की वसूली होती है, क्या ये बात लोग नहीं जानते हैं? कल मुझे भी मार दिया जाए तो गम नहीं। मैं सत्य से पीछे नहीं हटूंगा।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios