Asianet News HindiAsianet News Hindi

राम की नगरी अयोध्या में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक, होटलों व धर्मशालाओं में नहीं होगी बुकिंग

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए अयोध्या के जिला प्रशासन ने एक एडवाइजरी जारी की है। इसके तहत अब अयोध्या में श्रद्धालुओं या बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश वर्जित होगा। 2 अप्रैल तक ये प्रतिबंध प्रभावी रहेगा।

ban on entry of outsiders in ayodhya from coronavirus kpl
Author
Ayodhya, First Published Mar 21, 2020, 5:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अयोध्या(Uttar Pradesh ) . उत्तर प्रदेश के अयोध्या बाहरी लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। रामलला का दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को भी 2 अप्रैल तक अयोध्या में प्रवेश नहीं मिल सकेगा। इसके लिए अयोध्या के जिला प्रशासन द्वारा एक एडवाइजरी जारी के गई है। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए एहतियातन ये कदम उठाए जा रहे हैं। 

बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए अयोध्या के जिला प्रशासन ने एक एडवाइजरी जारी की है। इसके तहत अब अयोध्या में श्रद्धालुओं या बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश वर्जित होगा। 2 अप्रैल तक ये प्रतिबंध प्रभावी रहेगा। इसके आलावा अयोध्या में लगने वाला रामनवमी का ऐतिहासिक मेला भी इस बार नहीं लगेगा। जिला प्रशासन ने कोरोना के संक्रमण पर काबू पाने के लिए ये निर्देश जारी किए हैं 

एडवाइजरी में कहीं गई ये प्रमुख बातें 
जनपद के सभी श्रद्धालु, दर्शनार्थी भी अयोध्या धाम में अनावश्यक यात्रा न करें। सभी धर्म गुरुओं, संतों और मंदिर प्रशासन द्वारा इसकी अपील भी की गई है  कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए आप अपने सभी कार्य अपने स्थलों से करें। धार्मिक कार्यक्रम व मंदिर दर्शन से यथासंभव बचा जाए। अयोध्या धाम के बाहर से आने वाले सभी श्रद्धालु 2 अप्रैल तक अयोध्या न आएं। उनके प्रवेश पर प्रतिबंध रहेगा। बाहर से आ रहे श्रद्धालुओं को जनपद के बाहर रोककर वापस भेजा जाएगा। सरयू नदी में सामूहिक स्नान पर 2 अप्रैल तक प्रतिबंध रहेगा।  पानी द्वारा संक्रमण फैल सकता है। अयोध्या में सभी होटल, धर्मशाला, लॉज आदि में सभी बुकिंग निरस्त रहेगी। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios