स्कूल में 25 साल के टीचर की हार्ट अटैक से मौत, आखिरी शब्द- सीने में दर्द, आंखों के सामने छा रहा अंधेरा

| Dec 05 2022, 04:43 PM IST

स्कूल में 25 साल के टीचर की हार्ट अटैक से मौत, आखिरी शब्द- सीने में दर्द, आंखों के सामने छा रहा अंधेरा

सार

यूपी के बरेली के एक प्राइवेट स्कूल में 25 साल के शिक्षक की अचानक से मौत हो गई। बता दें कि स्कूल में प्रार्थना के दौरान शिक्षक के सीने में तेज दर्द उठा था। वहीं जब तक उन्हें अस्पताल ले जाया जाता, उससे पहले उनकी मौत हो गई।

बरेली: उत्तर प्रदेश के बरेली जिले से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। बरेली के प्राइवेट स्कूल में प्रार्थना के दौरान के 25 साल के शिक्षक की मौत हो गई। शिक्षक की मौत से स्कूल में हड़कंप मच गया। बताया गया कि प्रार्थना के दौरान शिक्षक ने कहा कि उनके सीने में तेज दर्द हो रहा है और आंखों के सामने अंधेरा छा रहा है। ये मौत से पहले शिक्षक के आखिरी शब्द थे। जिसके बाद स्कूल स्टाफ और छात्र आनन-फानन में इलाज के लिए अस्पताल लेकर भागे। लेकिन तब तक शिक्षक की मौत हो चुकी थी। इतनी कम उम्र में शिक्षक की मौत ने सभी को झकझोर कर रख दिया है।

स्कूल में शिक्षक की अचानक बिगड़ी तबीयत
बता दें कि यह मामला शाही कस्बे का है। 25 साल के गोविंद देवल जेके स्कूल एकेडमी में शिक्षक के तौर पर अपनी सेवा दे रहे थे। शनिवार को भी वह रोज की तरह स्कूल पहुंचे। जिसके बाद वह प्रार्थना सभा में शामिल हुए। लेकिन प्रार्थना खत्म होने से पहले उन्होंने अपना सीना पकड़ लिया। जब अन्य शिक्षक ने उनसे पूछा तो गोविंद देवल ने कहा कि उनके सीने में तेज दर्द हो रही है। जिसके बाद उनको कुर्सी पर बैठाया गया। अचानक हुई इस घटना से छात्र और अन्य शिक्षक घबरा गए। जिसके बाद उन्हें बरेली के एक मेडिकल कॉलेज में ले जाया गया। 

Subscribe to get breaking news alerts

शिक्षक की मौत से परिवार और स्टाफ को लगा सदमा
जहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों ने बताया कि शिक्षक की मौत हार्ट अटैक आने के कारण हुई है। वहीं शिक्षक की अचानक हुई मौत से उनके परिवार और स्टाफ को भी सदमा लगा है। गोविंद के परिजनों ने बताया कि सुबह स्कूल जाते समय वह ठीक थे। बताया जा रहा है कि गोविंद देवल दो बहन और तीन भाइयों में सबसे छोटे थे। गोविंद अपनी पढ़ाई के साथ ही साथ स्कूल में बच्चों को पढ़ाने का काम करते थे। बता दें कि इससे पहले भी इस तरह की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं। जहां पर हार्ट अटैक के कारण लोगों की मौत हो गई। कम उम्र में होने वाली मौत को लोग कोविड संक्रमण के बाद आए बदलाव के रूप में देखा जा रहा है। फिलहाल इस पर अभी कोई मेडिकल रिसर्च सामने नहीं आई है।

चूहे की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई सामने, डूबने से नहीं खराब फेफड़े और लिवर फेल होने से हुई मौत