Asianet News HindiAsianet News Hindi

बरेली: शराब के नशे में धुत्त दोस्त ने पत्नी पर की आपत्तिजनक टिप्पणी, गुस्से में आकर युवक ने उठाया बड़ा कदम

यूपी के जिले बरेली में दो दोस्तों ने मिलकर एक दोस्त की निर्मम हत्या कर दी। शराब पार्टी के दौरान युवक द्वारा एक दोस्त की पत्नी पर कमेंट किए जाने को लेकर दोनों ने मिलकर युवक की हत्या कर दी। युवकों ने ईंट से कुचलकर सेप्टिक टैंक में फेंक कर फरार हो गए।

Bareilly Intoxicated friend made objectionable remarks on his wife anger young man took big step
Author
First Published Sep 14, 2022, 12:52 PM IST

बरेली: उत्तर प्रदेश के जिले बरेली में नशे करने के दौरान दो दोस्तों ने तीसरे दोस्त की निर्मम हत्या कर दी। तीनों शराब पार्टी को लेकर साथ थे तभी एक दोस्त दूसरे युवक की पत्नी पर कमेंट कर देता है। दोनों के बीच विवाद होता है और फिर दो युवक मिलकर उसकी हत्या कर देते है। दोनों ने ईंट से कुचलकर युवक की हत्या कर दी और उसके बाद शव को एक निर्माणाधीन सेप्टिक टैंक में फेंक कर फरार हो गए। स्थानीय लोगों ने शव को देखकर पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और दोनों आरोपियों का गिरफ्तार कर लिया है।

दोस्त के शव को सेप्टिक टैंक में दिया फेंक
ऐसा बताया जा रहा है कि दो दोस्त शिवम और रजत ने तीसरे दोस्त आशीष को उसके घर बुलाकर ले गए थे। उसके बाद आशीष के घर से करीब 200 मीटर की दूर पर तीनों दोस्त एक निर्माणाधीन घर में शराब की पार्टी करने लगे। इसी दौरान तीनों ने खूब शराब पी और एक युवक ने शिवम की पत्नी पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी। इस बात से नाराज होकर शिवम ने रजत के साथ मिलकर आशीष की हत्या कर दी। हत्या कर उसके दोस्तों ने शव को निर्माणाधीन सेप्टिक टैंक में फेंक दिया था। इस दौरान वहां से निकल रहे लोगों की नजर शव पर पड़ी। उसके बाद किसी ने सुभाषनगर पुलिस को फोन कर बताया कि एक युवक का शव सेप्टिक टैंक में पड़ा है।

सीसीटीवी फुटेज से खुल गया पूरा राज
मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को बाहर निकलवाया और शिनाख्त में जुट गई। जांच में पता चला कि यह पास में ही रहने वाला आशीष का शव है। उसकी मौत की खबर परिजनों को दी गई। दर्दनाक खबर सुनते ही उसके परिजन का रो-रोकर बुरा हाल है। परिजन के अनुसार आशीष एक होटल में नौकरी करता था और शराब पीने का काफी शौकीन भी था। इस पूरे प्रकरण को लेकर एसपी सिटी राहुल भाटी ने बताया कि इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची थी। इलाके में लगे आस-पास के कैमरों को खंगाला तो पता चला कि आशीष को उसके ही दोस्त शिवम और रजत अपने साथ ले गए थे। इसी के बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है और उन्होंने पूछताछ में अपना गुनाह स्वीकार कर लिया। 

चित्रकूट के पीडब्लूडी में एक मुर्दा कई साल तक करता रहा नौकरी, अब ले रहा हैं पेंशन, जानिए क्या है पूरा मामला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios