Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP News: जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी निश्लानंद सरस्वती का बड़ा बयान, बोले-ऐसे तो यूपी में बनेंगे 3 नए पाकिस्तान

यूपी के मुरादाबाद में पहुंचे जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी निश्लानन्द सरस्वती ने अयोध्या(Ayodhya) में मस्जिद के लिए मुस्लिमों को दी गई 5 एकड़ जमीन को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि अयोध्या में मस्जिद बनाने के लिए जो 5 एकड़ जमीन दी गयी है और मथुरा व काशी में भी ऐसा ही लग रहा है, जिसके बाद यूपी में 3 पाकिस्तान बन जाएंगे। 

Big statement of Jagatguru Shankaracharya Swami Nislanand Saraswati said There will be 3 new Pakistans in UP
Author
Lucknow, First Published Nov 25, 2021, 4:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुरादाबाद: जगतगुरु शंकराचार्य (Jagatguru Shankaracharya) स्वामी निश्लानन्द सरस्वती महाराज ने मुरादाबाद(Muradabad)  में आयोजित हुई एक धर्मसभा के दौरान अयोध्या(Ayodhya)  की मस्जिद पर एक बड़ा बयान दिया। उन्होंने प्रधामंत्री मोदी(PM Narendra Modi) और मुख्यमंत्री योगी(CM Yogi Adityanath) को चेताते हुए कहा कि मस्जिद बनाने के लिए जो 5 एकड़ जमीन दी गयी है और मथुरा(Mathura) व काशी में भी ऐसा ही लग रहा है, जिसके बाद यूपी में 3 पाकिस्तान(Pakistan) बन जाएंगे। 


3 नए पाकिस्तान की ओर बढ़ रहा यूपी: शंकराचार्य
यूपी के मुरादाबाद की विराट धर्म सभा में पहुंचे जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी निश्लानंद सरस्वती महाराज(Swami Nislananda Saraswati Maharaj) ने अयोध्या की मस्जिद पर बड़ा बयान देते हुए मोदी और योगी को चेताया है। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने सुप्रीमकोर्ट(Suprime court) के माध्यम से अयोध्या में मस्जिद बनाने के लिए पांच एकड़ जमीन दी है। जिससे बाद ऐसा ही मथुरा और काशी में भी लग रहा है। उन्होंने बड़ा बयान देते हुए कहा कि यूपी तीन नए पाकिस्तान की ओर अग्रसर हो रहा है। उन्होंने कहा कि आपको सावधान रहने की आवश्यकता है।

'भारत में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति के पूर्वज हिन्दू हैं'
जगतगुरु महाराज ने कहा कि अगर वो नरसिम्हा राव की सरकार के दौरान हस्ताक्षर कर देते तो राम मंदिर के पास ही मस्जिद बन रही होती। उन्होंने हस्ताक्षर नहीं किए, इस लिए मस्जिद 25 किलोमीटर दूर बन रही है। वही, भारत के हिन्दू राष्ट्र होने वाली बात पर उन्होंने कहा कि यहाँ पर रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति के पूर्वज तो हिन्दू ही थे और जब अपने पूर्वज की पहचान हो जाएगी तो हिन्दू राष्ट्र में आस्था जरूर होगी। उन्होंने कहा कि मोहम्मद साहब और बाइबिल से पहले कोई मौलिक धर्म था या नहीं, इस पर विचार करने की आवश्यकता है। आपको बता दें कि शंकराचार्य मुरादाबाद के रेलवे स्टेडियम में आयोजित विराट धर्म सभा मे बोल रहे थे, जहाँ पर हजारों लोगों के बीच उन्होने अपने विचार रखे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios