Asianet News HindiAsianet News Hindi

बिजनौर: आदित्य राणा के फरार होने पर गांव में पसरा सन्नाटा, जानें कैसे आरोपी ने पुलिस को दिया चकमा

बिजनौर के अपराधी आदित्य राणा ने एक बार फिर पुलिस को चकमा दे दिया है। रात को ढाबे पर खाना खाने के दौरान वह पुलिस की आंखों में धूल झोंककर फरार हो गया। अपने गांव के दो सगे भाइयों की हत्या कर वह चर्चा में आया था।
 

Bijnor Silence prevailed in village after Aditya Rana absconded know how accused escaped from police custody
Author
Bijnor, First Published Aug 24, 2022, 7:57 PM IST

बिजनौर: यूपी के लखनऊ जेल में बंद कुख्यात अपराधी आदित्य राणा पुलिस को चमका देकर फरार हो गया है। आदित्य राणा पेशी पर बिजनौर लाया गया था। पुलिस की आखों में धूल झोंककर वह शाहजहांपुर के ढाबे से भाग गया। आदित्य ने अपने गांव के दो सगे भाइयों की निर्ममता से हत्या कर दी थी। जिसके बाद वह सुर्खियों में आ गया था। आदित्य राणा पर कई संगीन धाराओं में कई केस दर्ज हैं। इस अपराधी के फरार होने के बाद से उसके गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। वहीं शाहजहांपुर पुलिस भी उसके फरार होने के बाद से चौकन्नी हो गई है। 

आरोपी के खिलाफ दर्ज हैं कई मुकदमे
आदित्य गलत संगत में रहने के कारण अपराध की दुनिया में अपने कदम जमाता चला गया। पुलिस मुखबरी के शक में उसने अपने गांव के निवासी मुकेश की हत्या कर दी थी। मुकेश हत्याकांड के बाद उसकी पैरवी कर रहे छोटे भाई राकेश की भी उसने बेरहमी से हत्या कर दी थी। पुलिस को जानकारी मिली थी कि आदित्य राणा जेल से ही अपनी गैंग चलाता है। आदित्य ने लूटपाट, हत्या, फिरौती जैसे कई संगीन जुर्म कर लोगों में अपने नाम का खौफ बनाया था। इससे पहले वर्ष 2017 में भी यह अपराधी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था। 

पुलिस को चमका देकर फरार हुआ आरोपी
फरार होने के कुछ समय बाद आरोपी ने खुद को बिजनौर कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। उसकी गतिविधियों को देखते हुए उसे बिजनौर जेल से लखनऊ जेल में शिफ्ट कर दिया गया था। मंगलवार को पुलिस कस्टडी में आदित्य को पेशी के लिए बिजनौर कोर्ट लाया गया था। पेशी पर से रात में लौटते समय लगभग 1 बजे के आसपास आदित्य राणा ने साथ मौजूद पुलिसकर्मियों से खाना खाने की इच्छा जाहिर की। जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने वहां मौजूद ढाबे पर रुककर खाना खाया। इसी दौरान उसने पुलिस से लघुशंका का बहाना बनाया और पुलिस को चमका देकर फरार हो गया। 

तिरंगा बांटने पर गरीब परिवार को मिली जान से मारने की धमकी, घर के बाहर मिला ISI के नाम का पत्र

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios