वाराणसी में बीजेपी प्रत्याशी ने जीत का किया दावा, बोले- माफियाओं के भटके वोटर, मुझे कर रहे है साइलेंट वोट

| Apr 09 2022, 05:32 PM IST

वाराणसी में बीजेपी प्रत्याशी ने जीत का किया दावा, बोले- माफियाओं के भटके वोटर, मुझे कर रहे है साइलेंट वोट

सार

उत्तर प्रदेश परिषदीय चुनाव के बीज भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी सुदामा सिंह पटेल ने जीत का दावा किया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यकाल में आम जनता ने यह बता दिया है कि कोई माफिया कुछ नहीं कर सकता है। जिसकी वजह से बृजेश सिंह के वोटर भटक गए है। 

वाराणसी: उत्तर प्रदेश में विधान परिषद चुनाव भी संपन्न हो चुका है। परिषदीय चुनाव के परिणाम 12 अप्रैल को घोषित होंगे। काशी स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव के लिए शनिवार यानी नौ अप्रैल को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान समाप्त हो गया। मतगणना के दौरान ही जिले में बीजेपी के टिकट पर MLC का चुनाव लड़ रहे डॉ सुदामा पटेल ने प्रचंड जीत का दावा किया है। परिषदीय चुनाव के नतीजे अभी घोषित भी नही हुए लेकिन पार्टी के कार्यकर्ता को इतना विश्वास है कि पहले से ही बोल दिया। 

दरअसल भारतीय जनता पार्टी के डॉ सुदामा पटेल के समाने माफिया डॉन बृजेश सिंह की पत्नी अन्नपूर्णा सिंह प्रत्याशी है। चुनाव में धनबल और बाहुबल के खिलाफ लड़ रहे भाजपा के एमएलसी प्रत्याशी सुदामा पटेल ने निजी चैनल से बातचीत में कहा कि चुनाव हम जीत रहे हैं। वोटर मन बचा बना चुके हैं कि हम अपने प्रतिनिधि से अपना दर्द बता सकें। मुख्यमंत्री योगी के कार्यकाल में आम जनता ने यह मैसेज दे दिया है कि कोई माफिया कुछ नहीं कर सकता है। इसकी वजह से बृजेश सिंह के वोटर भटक गए और मुझे साइलेंट वोट कर रहे है। सुदामा यादव ने कहा कि बृजेश सिंह वाराणसी सेंट्रल जेल में बंद है।

Subscribe to get breaking news alerts

कोई माफिया कुछ नहीं कर सकता
माफिया बृजेश सिंह की ताकत सब कोई जानता है अभी तो वर्तमान एमएलसी भी है। इस तरह के लोगों का प्रभाव रहता है और चुनाव डिस्टर्ब होता है। इसलिए हम बार-बार अपील कर रहे थे कि इनको यहां से दूसरी जगह शिफ्ट किया जाए। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री योगी के कार्यकाल में आम जनता ने यह मैसेज दे दिया है कि कोई माफिया कुछ नहीं कर सकता है। इसकी वजह से बृजेश सिंह के वोटर भटक गए और मुझे साइलेंट वोट कर रहे है। बीजेप प्रत्याशी डॉ सुदामा पटेल ने कहा कि मैं एक चिकित्सक और पढ़ा लिखा  हूं, इसी वजह से लोग उन्हें मदद कर रहे है। 

परिषदीय चुनाव लड़ना था कठिन 
विधानपरिषद चुनाव डॉ सुदामा पटेल के लिए कितना चुनौतीपूर्ण रहा है इसका दुख साझा करते हुए बृजेश सिंह ने कहा कि यह चुनाव लड़ना कठिन तो बहुत रहा, क्योंकि लोग साथ चलने को तैयार ही नहीं थे। लेकिन मीडिया की मदद से मूवमेंट बना और अब हम चुनाव जीत रहे है। यह चुनाव डेलिगेट्स का चुनाव है और पांच हजार से ज्यादा लोग मतदाता है। लोग भाजपा को वोट कर रहे है। बीजेपी प्रत्याशी डॉ सुदामा ने दावा किया कि अब कार्यकर्ता उनके साथ हैं। पार्टी ने लोगों को आश्वस्त किया है कि बाहुबली से डरना नहीं है। वाराणसी से समाजवादी पार्टी से उमेश कुमार, भारतीय जनता पार्टी से डॉ सुदामा पटेल और जेल में बंद निवर्तमान एमएलसी बृजेश सिंह उर्फ अरुण सिंह की पत्नी व पूर्व एमएलसी अन्नपूर्णा सिंह मैदान में हैं। 

प्रियंका गांधी वाड्रा पर हमलावर हुई स्मृति ईरानी, बोलीं- यूपी प्रभारी ने जब्त करा दी कांग्रेस की जमानत

विधानपरिषद चुनाव में स्मृति ईरानी के नाम दर्ज हुआ एक अनोखा रिकॉर्ड

याकूब के घर पर गैर जमानती वारंट हुआ चस्पा, दिल्ली में लोकेशन मिलने के बाद और भी सक्रिय हुई टीमें

सनक, पत्नी की तलाश और तलाकशुदा पर रौब जमाने के लिए राहिल बना था रॉ एजेंट, बड़बोलेपन ने करवाया गिरफ्तार

 
Read more Articles on