Asianet News Hindi

UP में हंगामे के बीच बजट सत्र शुरू, 22 को पेश होगा ई-बजट, विधान भवन में पेट्रोल व डीजल लेकर पहुंचे सपा नेता

विपक्ष भी सरकार की घेराबंदी करने के लिए कमर कसे है। इस दौरान सपा के विधायकों ने वेल में आकर जमकर हंगामा किया। नारेबाजी करते हुए सपा विधायकों ने पोस्टर लहराया है। वहीं, कांग्रेस और बसपा विधायकों ने अभिभाषण का विरोध करते हुए सदन से वॉक आउट किया है।  

Budget session begins amidst uproar in UP, e-budget will be presented on 22nd, SP leaders arrive with petrol and diesel in bottles in Vidhan Bhavan asa
Author
Lucknow, First Published Feb 18, 2021, 11:54 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh) । उत्तर प्रदेश विधान मंडल का बजट सत्र गुरुवार को राज्यपाल आनंदी बेन के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में अभिभाषण से आरंभ हो गया। 22 फरवरी को योगी आदित्यनाथ सरकार अपने कार्यकाल का अंतिम पूर्ण बजट प्रस्तुत करेगी। जिसे चुनावा बजट माना जा रहा है, जो पेपरलेश होगा। बता दें कि इससे पहले किसान समस्याओं व महंगाई के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने के लिए विप नेता ट्रैक्टर लेकर विधान भवन पहुंचे और जमकर नारेबाजी की। इस दौरान कुछ नेताओं ने डीजल और पेट्रोल भरे बॉटल लेकर आए थे

सपा विधायकों का हंगामा, बसपा-कांग्रेस ने किया वॉक आउट
विपक्ष भी सरकार की घेराबंदी करने के लिए कमर कसे है। इस दौरान सपा के विधायकों ने वेल में आकर जमकर हंगामा किया। नारेबाजी करते हुए सपा विधायकों ने पोस्टर लहराया है। वहीं, कांग्रेस और बसपा विधायकों ने अभिभाषण का विरोध करते हुए सदन से वॉक आउट किया है।  

 

देश के सबसे बड़े राज्य में पेश होगा ई-बजट
बजट सत्र शुरू होने के पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि इस सत्र में सबसे बड़े राज्य का पहला ई-बजट प्रस्तुत होगा। सत्ता पक्ष व विपक्ष की सामूहिक जिम्मेदारी है कि इस दौरान ऐसा वातावरण रहे जो अन्य राज्यों के लिए भी अनुकरणीय हो। विधानसभा अध्यक्ष दीक्षित ने कहा कि देश की सबसे बड़ी विधान सभा होने के नाते हमारा दायित्व है कि हम संविधान के प्रति प्रतिबद्ध परंपरा व संस्कृति के साथ निष्ठावान होकर सदन की कार्यवाही मधुरतापूर्वक चलायें।

बजट 22 को, उसी दिन से ही अभिभाषण पर चर्चा
विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहा है कि सदन 18 फरवरी से 10 मार्च तक घोषित कार्यक्रमानुसार संचालित होगा। 19 फरवरी को अभिभाषण पर चर्चा आरंभ नहीं होगी। निधन के निर्देश तथा नियम-56 लिए जाएंगे। 22 फरवरी को प्रात: 11 बजे वित्त मंत्री सुरेश खन्ना 2021-22 का आय-व्यय का प्रस्तुतीकरण करेंगे। इसके बाद अभिभाषण पर चर्चा आरंभ होगी। सदन की कार्यवाही पेपरलेस बनाने का संकल्प भी दोहराया गया। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios