Asianet News HindiAsianet News Hindi

बुलंदशहर: चचेरे भाइयों की निर्मम हत्या, संभल के जंगल में मिला शव, सिर की तलाश जारी

यूपी के जिले बुलंदशहर में दो चचेरे भाइयों की सिर धड़ से अलग करके हत्या कर दी गई। दोनों का धड़ मंगलवार को संभल जिले के जंगल में मिला है। पुलिस दोनों के सिर की तलाश कर रही है। दोनों भाई मां काली की शोभायात्रा देखने के लिए घर से निकले थे, तभी से लापता हो गए थे।

 Bulandshahr Brutal murder of cousins dead body found in the forest Sambhal search for head continues
Author
First Published Oct 4, 2022, 4:14 PM IST

बुलंदशहर: उत्तर प्रदेश के जिले बुलंदशहर में दो चचेर भाइयों की सिर काटकर हत्या कर दी गई है। हैरान करने वाली बात तो यह है कि दोनों का धड़ राज्य के संभल जिले के जंगलों में बरामद हुआ है। फिलहाल पुलिस दोनों का सिर तलाश कर रही है। ऐसा बताया जा रहा है कि शनिवार को दोनों भाई मां काली की शोभायात्रा देखने के लिए घर से निकले थे और उसके बाद वापस नहीं आए। दोनों तभी से लापता है, जिसके बाद परिवार ने गुमशुदगी दर्ज कराई थी। इस मामले में पुलिस ने गांव के दो सगे भाइयों व उसकी मां को गिरफ्तार कर लिया है।

माता की शोभायात्रा देखने के लिए निकले थे युवक
जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के सलेमपुर थाना क्षेत्र के गांव कैलावन का है। गांव के निवासी नरेश ने एक अक्टूबर को थाने में सूचना दी थी कि उनका बेटा भूपेंद्र (23) और भतीजा जगदीश (19) लापता हो गए हैं। इस दौरान उन्होंने बताया कि दोनों भाई मां काली की शोभायात्रा देखने के लिए घर से निकले थे लेकिन वापस नहीं लौटे। जगदीश और भूपेंद्र की खोजबीन आसपास के रिश्तेदारों के यहां भी की लेकिन कुछ पता नहीं चला। एक ही घर के दो बेटों की मौत के बाद परिवार में मातम छा गया है। 

घर से 40 किमी दूर मिला युवकों का शव
चार अक्टूबर मंगलवार की सुबह संभल में रजपुरा के जंगल में दोनों युवकों के धड़ पड़े होने की सूचना मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने घरवालों को बुलाया। कपड़े और शरीर के आधार पर दोनों सिर कटे धड़ों की शिनाख्त भूपेंद्र और जगदीश के तौर पर हुई। दोनों के शव एक साथ ही जंगल में थे। यह परिवार गांव में ज्वाइट फैमिली में रहता है, ऐसे में एक घर के दो बेटों की हत्या के बाद से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। परिवार वाले तो बिल्कुल बेसुध ही हैं, अभी तक किसी ने कुछ भी नहीं कहा है। पुलिस ने अभी तक स्पष्ट नहीं किया है कि सिर कटी लाश तक पुलिस कैसे पहुंची। युवकों के घर से करीब 40 किमी दूर लाशें मिली है।

परिवार की किसी से नहीं है कोई दुश्मनी
मृतक भूपेंद्र के पिता का नाम नरेश है, वह सफाईकर्मी है। भूपेंद्र बीएड का छात्रा था। वहीं मृतक जगदीश आईटीआई का छात्र था, इसके पिता विजय पोस्ट ऑफिस में नौकरी करते हैं। पुलिस के अनुसार परिवार सीधा-सादा है और गांव में उनकी किसी से कोई रंजिश नहीं है। मृतक जगदीश के पिता का कहना है कि किसी से कोई दुश्मनी नहीं है। ऐसे में किसे हत्यारा बता दें। दोनों युवकों के पिता ने किसी से भी दुश्मनी होने से मना कर दिया है। एसएसपी श्लोक कुमार सिंह का कहना है कि लापता युवकों के धड़ बरामद हुए हैं। दोनों के सिर की तलाश की जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि गां के ही कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इस घटना के खुलासे के लिए टीमें गठित कर दी गई हैं, जल्द ही खुलासा किया जाएगा। 

खेत में न्यूड मिले शव को लेकर 500 मी तक भागी पुलिस, पीछे दौड़ती रही मां, वारदात के समय 200 मीटर दूर थे पिता

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios