Asianet News HindiAsianet News Hindi

चंदौली: रेलकर्मी की घर में गला दबाकर हत्या, मेज पर रखी प्रेग्नेंसी किट से आरोपी तक पहुंची पुलिस

चंदौली में महिला रेलकर्मी की उसी के घर में हत्या कर दी गई। इस घटना का खुलासे में मेज पर रखी प्रेग्नेंसी किट अहम कड़ी साबित हुई। पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया।

Chandauli Railway worker strangled to death in the house incident was revealed from the pregnancy kit kept on the table
Author
First Published Sep 30, 2022, 9:49 AM IST

चंदौली: मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र में महिला रेलकर्मी खुशबू की हत्या को लेकर पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया। खुशबू की हत्या उसके प्रेमी राहुल कुमार प्रजापति उर्फ बिट्टू ने की थी। दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। खुशबू विधवा थी और उसे रेलवे में अनुकंपा नियुक्ति मिली थी और राहुल भी विधुर था। प्रेम प्रसंग के बीच दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खाईं। इसी बीच दोनों ने संबंध भी बनाए। खुशबू शादी के के लिए राहुल पर दबाव बना रही थी हालांकि राहुल इसके लिए राजी नहीं था। 

गला दबाकर की गई खुशबू की हत्या 
घटना वाले दिन खुशबू ने राहुल को फोन कर घर बुलाया। फोन पर उसने कहा कि उसे लगता है कि वह प्रेग्नेंट हैं। इसके बाद उसने राहुल से प्रेग्नेंसी किट लेकर मिलने के लिए बुलाया। जब राहुल पहुंचा तो दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इसी बीच खुशबू ने गुस्से में राहुल को थप्पड़ जड़ दिया। आक्रोशित राहुल ने खुशबू की हत्या वहीं पर गला दबाकर कर दी। 

मेज पर रखी प्रेग्नेंसी किट ने खोला राज
गौरतलब है कि खुशबू रवी नगर इलाके में अपनी सहकर्मी डॉली के के साथ रहती थी। मंगलवार की शाम को जब ड्यूटी समाप्त होने के बाद डॉली ने खुशबू को फोन किया तो खुशबू ने फोन नहीं उठाया। जब डॉली कमरे में गई तो दरवाजा खुला था और खुशबू मृत अवस्था में पड़ी थी। डॉली को लगा कि खुशबू सो रही है। काफी जगाने के बाद भी जब वह नहीं जगी तो डॉली ने पड़ोसियों को सूचित किया। आनन फानन में सभी खुशबू को लेकर रेलवे लोको अस्पताल पहुंचे जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस ब्लाइंड केस को सुलझाने के लिए जब पुलिस ने जांच शुरू की तो कमरे में मेज पर एक प्रेग्नेंसी किट मिली। खुशबू और उसकी सहकर्मी दोनों ही विधवा थीं लिहाजा किट को देखकर पुलिस को शक हुआ। पुलिस ने घर के पास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले और जांच शुरू की। जांच में पुलिस राहुल तक पहुंची और जब उससे कड़ाई से पूछताछ हुई तो आरोपी ने पूरा सच कबूल कर लिया। 

यूपी में अग्निवीर भर्ती में चल रहा था फर्जी डॉक्यूमेंट का खेल, मास्टरमाइंड सिकंदर के इशारे पर होता था पूरा काम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios