Asianet News Hindi

राज्यकीय मेडिकल कॉलेज के बाहर सफाईकर्मियों ने शुरू की अनिश्चित कालीन हङताल, कंपनी पर जबरन सैलरी काटने का आरोप

राज्यकीय मेडिकल कॉलेज मे सफाईकर्मियों ने अनिश्चित कालीन हङताल शुरू कर दी है। सफाईकर्मी अस्पताल के बाहर अपनी मांगो को लेकर धरने पर बैठ गए हैं।

cleaning staff goes on strike outside medical college
Author
Shahjahanpur, First Published Jul 2, 2019, 4:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

शाहजहांपुर। राज्यकीये मेडिकल कॉलेज मे सफाईकर्मियों ने अनिश्चित कालीन हङताल शुरू कर दी है। सफाईकर्मी अस्पताल के बाहर अपनी मांगो को लेकर धरने पर बैठ गई है। आरोप है कि प्राईवेट कंपनी सफाईकर्मियों की सैलरी मे घोटाला कर रही है। साथ ही सफाईकर्मियों के सैलरी से पीएफ काटा गया। लेकिन एकाउंट मे न डालकर उसका बंदरबांट कर दिया गया। उनकी मांग है कि पूरी सैलरी और पीएफ मे पूरा पैसा दिया जाए। अगर ऐसा नही हुआ तो अनिश्चित कालीन हङताल जारी रहेगी।

 

राज्यकीये मेडिकल कॉलेज मे सफाईकर्मियों ने आज अनिश्चित कालीन हङताल शुरू कर अस्पताल के बाहर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है। इस वक्त अस्पताल मे मरीजों की तादाद बड़ी हुइ है। ऐसे मे अस्पताल मे गंदगी भी देखने को मिलती है। लेकिन अब जब सफाईकर्मियों ने हङताल शुरू की है तो अस्पताल की हालत और खराब होंने वाली है। सफाईकर्मियों ने धमकी दी है की अगर उनकी मांग जल्द नही मानी गई तो वह ऐसे ही हङताल जारी रखेंगे। इसके जिम्मेदार जिला प्रशासन और अस्पताल प्रशासन होगा।

 

सफाईकर्मी प्रदीप कुमार बाल्मीकि का कहना है कि दो साल पहले प्रीमियम प्राईवेट कंपनी के जरिए अस्पताल मे सफाईकर्मियों को लगाया गया था। तब 12000 रूपये प्रतिमाह देने की बात की गई थी। लेकिन उसके बाद से एकाउंट मे सैलरी आती है लेकिन सिर्फ 5000 हजार रूपए। जब इस बात की शिकायत की तो कंपनी के लोग नौकरी से निकालने की धमकी देते है।

 

दो साल पहले जब नौकरी पर लगाया था। तब कंपनी ने सैलरी से पीएफ काटकर एकाउंट में भेजने की बात की थी। लेकिन जब पीएफ चेक किया तो उसमे पैसा नही था। जब कंपनी से पैसे की मांग करते है तो जान से मारने की धमकी मिलती है। इसलिए हङताल तब तक जारी रहेगी जब तक हमारी मांग पूरी नही हो जाती है। 

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios