Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्राइवेट सेक्टर का कर्मचारी हुआ कोरोना पॉजिटिव तो वेतन के साथ मिलेगा 7 दिनों का अवकाश, CM योगी ने दिए निर्देश

सोमवार को टीम 9 के साथ हुई बैठक के दौरान सीएम योगी ने अफसरों को निर्देश देते हुए कहा कि निजी सेक्टर के कार्यालयों में कार्य करने वाले कर्मचारियों में से यदि कोई कर्मचारी कोविड पॉजिटिव होता है तो उसे कम से कम 7 दिनों का वेतन सहित अवकाश दिया जाए।

CM Yogi instructions private sector worker becomes covid positive 7 days leave with salary
Author
Lucknow, First Published Jan 10, 2022, 1:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ: यूपी में बढ़ते कोरोना संक्रमण (Covid 19) के बीच सुबह के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi adityanath) लगातार अफसरों के साथ बैठक करते हुए नए निर्देश देते जा रहे हैं। इसी बीच सोमवार को सीएम योगी ने सरकारी व निजी कार्यालयों को लेकर भी खास निर्देश जारी किए। उन्होंने अफसरों को निर्देश देते हुए कहा कि निजी सेक्टर (private sector)  के कार्यालयों में कार्य करने वाले कर्मचारियों में से यदि कोई कर्मचारी कोविड पॉजिटिव (Covid positive) होता है तो उसे कम से कम 7 दिनों का वेतन सहित अवकाश दिया जाए।

एक समय पर कार्यालयों में 50 प्रतिशत लोग हों उपस्थित- CM योगी
सोमवार को टीम 9 के साथ हुई बैठक के दौरान सीएम योगी ने बढ़ते कोरोना संक्रमण पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने उत्तर प्रदेश के सभी सरकारी व निजी कार्यालयों में एक समय में 50 प्रतिशत कर्मचारियों की भौतिक उपस्थिति की व्यवस्था को लागू करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर वर्क फ्रॉम होम की व्यवस्था को भी प्रोत्साहित किया जाए। इसके साथ ही उन्होंने अफसरों को निर्देश देते हुए कहा कि निजी सेक्टर के कार्यालयों में कार्य करने वाले कर्मचारियों में से यदि कोई कर्मचारी कोविड पॉजिटिव होता है तो उसे कम से कम 7 दिनों का वेतन सहित अवकाश दिया जाए। इसके साथ ही उन्होंने निर्देश दिया कि सभी शासकीय व निजी कार्यालयों के बाहर कोविड-19 डेस्क की स्थापना अनिवार्य रूप से की जाए। उन्होंने कड़े निर्देश दिए हैं कि बिना स्क्रीनिंग के किसी भी व्यक्ति को कार्यालय के भीतर प्रवेश ना दिया जाए। 

24× 7 एक्टिव रहें कोविड कमांड सेंटर- CM योगी
यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में इंटीग्रेटेड कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर (आईसीसीसी) को 24×7 एक्टिव रखा जाए। पूर्व की भांति वहां नियमित बैठकें आयोजित की जाएं। आईसीसीसी में विशेषज्ञ चिकित्सकों का पैनल मौजूद रहे। लोगों को टेलीकन्सल्टेशन की सुविधा दी जाए। आईसीसीसी हेल्पनंबर सार्वजनिक कर इसका व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। लोग किसी जरूरत पर तत्काल वहां संपर्क कर सकते हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios