Asianet News HindiAsianet News Hindi

सऊदी के जावेद का शव लाने के लिए सीओ अनिरुद्ध सिंह ने किया प्रयास, जब हटाया कफन तो सभी रह गए हैरान

यूपी के चंदौली निवासी एक शख्स की सउदी अरब में बीमारी के बाद मौत हो गई। उनके परिजनों ने शव को वापस लाने की अपील की थी। जिसके बाद सउदी प्रशासन ने मृतक व्यक्ति की जगह किसी दूसरे शख्स का शव भेज दिया।

CO Anirudh Singh tried to bring dead body of Saudis Javed when shroud was removed everyone was stunned
Author
First Published Oct 1, 2022, 11:45 AM IST

चंदौली: सउदी अरब प्रशासन की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। सउदी अरब में काम करने वाले चन्दौली निवासी जावेद की मौत के बाद उनका शव बदल गया। वाराणसी एयर पोर्ट पर जावेद के शव की जगह किसी अन्य व्यक्ति का शव पहुंच गया। इस अन्य व्यक्ति की कॉफिन पर जावेद के बजाय साजी राजन लिखा हुआ था। जिसके बाद उनके परिजनों ने इस घटना पर नाराजगी जताई है। वहीं जावेद के घरवालों ने इंडियन एम्बेसी और विदेश मंत्री जयशंकर को ट्वीट कर मामले की शिकायत की है।

चंदौली के व्यक्ति की सउदी अरब में हुई मौत
बताया जा रहा है कि चकिया के सिकंदरपुर के रहने वाले जावेद सऊदी अरब के दम्मान में एक इलेक्ट्रॉनिक कंपनी में काम करते थे। वहीं पर बीमारी के चलते उनकी मौत हो गई। जिसके बाद मृतक जावेद के भाई ने सरकार और अन्य लोगों से शव को वापस अपने देश ले जाने की अपील की। वहीं डीडीयू नगर के सीओ अनिरुद्ध सिंह ने भी सोशल मीडिया और ट्विटर के जरिए शव वापसी के प्रयास किए। उन लोगों द्वारा किए गए प्रयास रंग भी लाए। बता दें कि सऊदी अरब में इंडियन एम्बेसी ने और विदेश मंत्रालय ने मामले का संज्ञान लेते हुए शव को वापस उसके घर भेजने के प्रयास किये।

एयरपोर्ट पर पहुंचा किसी दूसरे व्यक्ति का शव
काफी कोशिशों के बाद बीते 30 सितंबर को जावेद का शव वाराणसी के बाबतपुर एयरपोर्ट पर लाया गया। इस दौरान जांच में पता चला कि सउदी से आया यह शव जावेद का नहीं बल्कि किसी साजी राजन का है। कॉफिन पर भी साजी राजन इस नाम का स्टिकर भी लगा हुआ था। मृतक के भाई नदीम जलाल इदिरसी ने नाराजगी जताते हुए कहा कि यह सऊदी प्रशासन की लापरवाही का नतीजा है। इसके बाद विदेश मंत्री एस जय शंकर और इंडियन एम्बेसी को भी ट्वीट कर मामले से अवगत करवाया गया। 

परिजनों ने सउदी प्रशासन पर लगाया लापरवाही का आरोप
नदीम जलाल ने बताया कि सऊदी अरब में 25 सितंबर को जावेद की मौत के बाद सभी फॉर्मेलटी को पूरा कर लिया गया था। जिसके बाद दिल्ली एयरपोर्ट के जरिए उनके भाई का शव वाराणसी एयर पोर्ट पहुंचा। लेकिन यह जावेद का शव नहीं है। वहीं शव वापसी के लिए प्रयासरत रहे सीओ अनिरुद्ध सिंह ने सऊदी एम्बेसी को ट्वीट कर शव बदल जाने के मामले पर संज्ञान लेने को कहा है। उन्होंने कहा कि सउदी प्रशासन इस मामले पर जल्द से जल्द संज्ञान लेकर जावेद के शव को दोबारा भेजने की व्यवस्था की जाए। 

चंदौली में पिता ने अपनी ही बेटी का गला दबाकर की हत्या, झूठी कहानी का पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने खोला पूरा सच

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios