Asianet News HindiAsianet News Hindi

यूपी में बढ़ रहा कोरोना, अब तक 56 लोग मिले पॉजिटिव, गौतमबुद्धनगर में मिल चुके हैं 23 मरीज


संक्रामक रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ विकास इंदु अग्रवाल ने बताया कि उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 56 संक्रमित लोगों में से अब तक कुल 14 को स्वस्थ घोषित कर अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है, जो स्वस्थ घोषित हुए हैं उनमें आगरा के सात, नोएडा के चार, गाजियाबाद के दो व लखनऊ का एक व्यक्ति शामिल है। 

Corona growing in UP, 56 people positive so far, 23 patients have been found in Gautam Budhnagar asa
Author
Lucknow, First Published Mar 28, 2020, 6:25 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh)। यूपी में कोरोना का संक्रमण तेज हो गया है। अब तक यूपी कोरोना पीड़ित मरीजों की 56 हो गई है। आज गौतमबुद्धनगर में पांच पॉजिटिव केस सामने आए। बता दें कि यहां करोना पीड़ित मरीजों की संख्या 23 पहुंच गई है। आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण ने बीते चार दिन में तेजी पकड़ी है। चार दिनों में 26 से अधिक पॉजिटिव की संख्या बढ़कर अब कुल संख्या 56 हो गई है।

कहा से मिले हैं कितने मरीज
यूपी में कोरोना वायरस से संक्रमित की संख्या 56 हो गई हैं। इनमें गौतमबुद्धनगर से ही 23 हैं। नोएडा में कल संख्या 18 थी। नोएडा के अलावा आगरा के दस, लखनऊ के आठ, गाजियाबाद के पांच, पीलीभीत के दो लोग हैं और लखीमपुर खीरी, बागपत, मुरादाबाद, वाराणसी, कानपुर, जौनपुर, शामली व मेरठ के एक-एक संक्रमित शामिल हैं। शुक्रवार को 137 संदिग्ध लोगों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करवाया गया। मेरठ में पॉजिटिव मिला व्यक्ति बुलंदशहर का रहने वाला है। वह फिलहाल कई दिन से मेरठ में रह रहा था।
 
14 लोगों की छुट्टी
संक्रामक रोग विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ विकास इंदु अग्रवाल ने बताया कि उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 56 संक्रमित लोगों में से अब तक कुल 14 को स्वस्थ घोषित कर अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है, जो स्वस्थ घोषित हुए हैं उनमें आगरा के सात, नोएडा के चार, गाजियाबाद के दो व लखनऊ का एक व्यक्ति शामिल है। 

केस मिलते ही सील कर दी जा रही एरिया
नोएडा में लगातार पॉजिटिव केस मिलने पर जिलाधिकारी बीएन सिंह बेहद सक्रिय हो गए हैं। जहां-जहां पर केस पॉजिटिव मिल रहे हैं, उनको सील कराते जा रहे हैं। नोएडा में शनिवार को सेक्टर 37 व 44 के साथ जेपी विशटाउन और ग्रेनो सोयायटी में पॉजिटिव केस मिले हैं। इन सभी क्षेत्र को 30 मार्च तक सील किया गया हैं। डीएम के आदेश पर चारों सोसायटी/सेक्टर्स को सील कर दिया गया है। इनमें एक सेक्टर 44, दूसरा-128, तीसरा 37 और दो संक्रमित व्यक्ति दादरी के अच्छेजा गांव के रहने वाले हैं।

यह है सरकार की व्यवस्था
आइसोलेशन व क्वॉरंटाइन बेड बढ़ाने के लिए अधिक से अधिक निजी अस्पतालों को भी अब टेकओवर किया जाएगा। अभी 24 निजी मेडिकल कॉलेज व 27 सरकारी मेडिकल कॉलेजों में लगभग 11000 से अधिक बेड आरक्षित किए गए हैं। हर जिले में दो सीएससी में कोरोना अस्पताल बनाए गए हैं। वहीं प्रयागराज व झांसी मेडिकल कॉलेज और लोहिया संस्थान को इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च आज कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों के नमूने की जांच के लिए हरी झंडी दे सकता है। यानी इस तरह कुल 11 लैब हो जाएंगी।

4,235 बेड आइसोलेशन वार्ड में तैयार
अस्पतालों व मेडिकल कॉलेजों में अधिक से अधिक आइसोलेशन बेड व क्वारंटाइन बेड की व्यवस्था की जा रही है। प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन ने बताया कि अस्पतालों में भर्ती 35 संक्रमितों की हालत स्थिर स्थिति में है। आठ परीक्षण प्रयोगशालाएं हैं, जबकि झांसी में एक नई प्रयोगशाला जल्द ही काम करना शुरू कर देगी। उन्होंने बताया कि 4,235 बेड आइसोलेशन वार्ड में तैयार हैं। क्वारंटाइन के लिए 6000 से अधिक बेड उपलब्ध हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios