बरेली (uttar pradesh) । कोरोना वायरस के संक्रमित युवक की मौत हो गई। वहीं, पति की मौत के बाद उनकी पत्नी बेसुध हो गईं है, उसे यकीन ही नहीं हो रहा कि जिससे उससे प्यार किया और साथ-साथ जीने-मरने की कसमें खाईं, वह आज इस तरह उसे अकेला छोड़कर चला गया। मृतक की पत्नी का भावुक करने वाला एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें कफन में लिपटे पति को रोते हुए उसकी पत्नी अपनी पहली मुलाकात की याद दिला रही है। इतना ही नहीं अपनी लव स्टोरी बताते-बाते कभी रोती हुई नजर आ रही है तो कभी गाना गाते हुए। 

यह है पूरा मामला
वजीर अहमद (35) ने बीते 25 अप्रैल को जांच कराई थी। 27 अप्रैल को उसमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। वह पहले से ही डायबिटीज का मरीज था और उसे सांस लेने में काफी तकलीफ हो रही थी। वजीर अहमद की दो दिन पहले ही पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी। इसके बाद उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। एसीएमओ डॉ. रंजन गौतम ने मौत की पुष्टि करते हुए बताया कि वजीर अहमद सांस और डायबिटीज से भी ग्रसित था।

क्या दिख रहा वीडियो में
अस्पताल के वॉर्ड में कफन से लिपटा पति का शव पड़ा था। दूर जाली वाले दरवाजे के उस पास पत्नी खड़ी थी, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में वजीर अहमद की पत्नी आंखों में आंसू लिए दूर से अपनी लव स्टोरी सुना रही थी। पत्नी की बातें सुनकर वहां मौजूद हर शख्स भावुक हो गया। रह-रह कह रही थी हम दोनों की लव मैरिज हुई थी। पत्नी यह कहते हुए सुनाई दे रही है, ''अगर तुमको कोरोना था तो मुझे क्यों नहीं हुआ, बच्चों को क्यों नहीं हुआ।'' वो उस वक्त का गाना गा रही है जब पहली बार वजीर अहमद ने उसे देखा था।

बिना डिग्री के करता था मेडिकल प्रैक्टिस
संक्रमित युवक बिना डिग्री के एक अस्पताल में मेडिकल प्रैक्टिस करता था। साथ ही टीबी डॉट्स सेंटर भी चलाता था। संक्रमण की पुष्टि होने के बाद तत्काल ही उसके परिवार के छह सदस्यों को भी क्वारंटाइन कर सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। पूरे हजियापुर इलाके को सील कर पुलिस फोर्स लगाई गई है। संक्रमित युवक के घर के एक किलोमीटर के दायरे को हॉटस्पॉट घोषित कर दिया गया है।