'रामपुर उपचुनाव में बीजेपी को घोषित कर दें विजेता' जानिए क्यों आजम खां पुलिस पर हुए हमलावर

| Nov 27 2022, 02:57 PM IST

'रामपुर उपचुनाव में बीजेपी को घोषित कर दें विजेता' जानिए क्यों आजम खां पुलिस पर हुए हमलावर

सार

रामपुर विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव के बीच सपा नेता आजम खां ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने सपा कार्यालय में प्रेस-कांफ्रेंस में कहा कि पुलिस लोगों को सपा के लिए वोट ना करने के लिए धमका रही है।

रामपुर: उत्तर प्रदेश के रामपुर विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव को लेकर भाजपा और सपा में कांटे की टक्कर देखी जा रही है। भाजपा आजम खां के गढ़ में कमल खिलाने को बेताब है। वहीं उपचुनाव को लेकर आजम खां ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। आजम खां ने आरोप लगाते हुए कहा कि लोगों के घरों में घुसकर पुलिस धमकी दे रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस लोगों को धमकी देते हुए कह रही है कि जिसने भी सपा को वोट दिया तो उससे घर खाली करवा लिए जाएंगे। आजम खां ने कहा कि पुलिस ने तो उनकी पत्नी को भी नहीं बख्शा है। वह तो पूर्व सांसद और पूर्व विधायक हैं। 

पुलिस के खिलाफ आजम के पास हैं सबूत
आजम खां ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने उनकी पत्नी से कहा है कि घर से बाहर मत निकलना। सपा नेता ने कहा कि यदि ऐसे ही चुनाव करवाने हैं तो चुनाव आयोग सीधे-सीधे भाजपा प्रत्याशी को जीता हुआ घोषित कर दे। बता दें कि शनिवार देर रात सपा कार्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस में आजम खां ने कहा कि वह जो आरोप लगा रहे हैं उसका सबूत भी उनके पास है। वीडियो फुटेज और रिकॉर्डिंग भी है। लेकिन किसी कारण से वह इस सबूतों को मीडिया के सामने नहीं ला रहे हैं। सपा नेता ने कहा कि कुछ महीने पहले हुए लोकसभा के उपचुनाव में जो हुआ था, वह भी किसी से छुपा हुआ नहीं है।

Subscribe to get breaking news alerts

भाजपा पर लगाए गंभीर आरोप
वहीं अब विधानसभा चुनाव के दौरान भी वैसा ही माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है। सपा नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि शनिवार रात पुलिस ने करीब 50 लोगों के घरों के दरवाजे तोड़कर महिलाओं के साथ अभद्रता की है। साथ ही उन्होंने कहा कि उपचुनाव के लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, रालोद के अध्यक्ष जयंत चौधरी और भीम आमी के चंद्रशेखर भी आने वाले हैं। आखिर वह लोग रामपुर किस लिए आ रहे हैं। सपा नेता ने कहा कि यहां तो उपचुनाव हो ही नहीं रहा है। उन्होंने कहा कि किसी भी महिला के साथ अभद्र व्यवहार शोभा नहीं देता है।

सपा नेता ने लोगों से की अपील
सपा नेता आजम खां ने जनता से अपील करके हुए कहा कि उन्हें मत बचाइए। वह सजायाफ्ता है, इसलिए वह तो चुनाव लड़ नहीं सकते हैं। साथ ही उनको वोट डालने का भी अधिकार नहीं है। लेकिन उन लोगों बचाइए, जिन लोगों की वजह से आप लोगों की पहचान है। आजम खां ने कहा कि वह ना तो कटाक्ष कर रहे हैं और ना ही किसी तरह की नसीहत दे रहे हैं। आजम खां ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि आप ही की बहन-बेटियां, वो मांएं हैं, जिनके साथ अपमानजनक व्यवहार हो रहा है। उन्हें पहचानने की जरूरत है।

अखिलेश यादव और जयंत का इंतजार कर रहे आजम खान, बोले- रामपुर में उपचुनाव नहीं हो रहा सिर्फ दहशत का है माहौल