Asianet News HindiAsianet News Hindi

असोम की मॉडल के साथ यूपी में किया गंदा काम, रो-रोकर बताया क्या-क्या हुआ उसके साथ

जांच में ये बात सामने आई कि जिस बंगले में घटना हुई, उसके आसपास रास्तों पर कैमरे हैं। पुलिस ने इनकी फुटेज नहीं निकलवाई। इससे पता नहीं लगा कि घटना के वक्त कौन-कौन बंगले में आया था। पुलिस ने बंगला भी सील नहीं किया। इतनी सनसनीखेज घटना होते हुए भी इंस्पेक्टर विजय कुमार पांडेय ने डेढ़ घंटे तक अधिकारियों को ही इसकी सूचना नहीं दी। खबर पर रात करीब एक बजे एसपी पहुंचे और तब कार्रवाई में तेजी आई।

Dirty work done in UP with Asom's model ASA
Author
Kanpur, First Published Mar 18, 2020, 5:24 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कानपुर (Uttar Pradesh) ।  असोम की मॉडल के साथ धोखे में कमिश्नर आवास के पास खाली पड़े बंगले में दुष्कर्म का प्रयास किया गया। बदहवास हाल में फटे कपड़े के साथ सड़क पर निकली निकलीं तो कालोनी के लोगों ने उसे शॉल ओढ़ाई थी। वहीं, थाने में वो अपनी मां के आते ही लिपटकर खूब रोई। साथ ही उस रात हुई हुई घटना की दास्तां बयां की। मॉडल ने कहा कि पुलिस सहारा नहीं देती तो शायद वह टूट जाती।

यह है पूरा मामला
मॉडल ने बताया कि आरोपी अमित 14 मार्च की रात होटल के बाहर मिलने आया। गाड़ी में बैठाकर क्लब ले गया। वहां से होटल छोडऩे के बजाए घुमाने ले गया। जिद करके वह होटल लौटी। वाटर पार्क में ले जाने से पहले टकीला पिलाया। वहां से बंगले में ले आया। यहां आने पर उसे उसके गलत इरादों का अहसास हो गया।


देर रात बदहवास हालत में निकली मॉडल, फटे कपड़े देखकर ओढ़ाई शॉल

बंगले के पास बस्ती के रहने वाले हिमांशु, राजू, कमला आदि ने पुलिस को बताया कि देर रात जब मॉडल बदहवास हालत में निकली तो वे मौके पर पहुंचे थे। उसके कपड़े फटे देखकर शॉल ओढ़ाई थी। कुछ देर बाद बंगले के मालिक समीर की पत्नी आईं थीं और उन्होंने उसे नींबू पानी पिलाया। इसके बाद पुलिस आ गई और युवती को साथ ले गई।

पुलिसियां जांच पर उठे सवाल
जांच में ये बात सामने आई कि जिस बंगले में घटना हुई, उसके आसपास रास्तों पर कैमरे हैं। पुलिस ने इनकी फुटेज नहीं निकलवाई। इससे पता नहीं लगा कि घटना के वक्त कौन-कौन बंगले में आया था। पुलिस ने बंगला भी सील नहीं किया। इतनी सनसनीखेज घटना होते हुए भी इंस्पेक्टर विजय कुमार पांडेय ने डेढ़ घंटे तक अधिकारियों को ही इसकी सूचना नहीं दी। खबर पर रात करीब एक बजे एसपी पहुंचे और तब कार्रवाई में तेजी आई।

पुलिस पकड़ में आने के बाद भागा अमित
मॉडल के मुताबिक, रविवार रात दुष्कर्म के प्रयास का मुख्य आरोपी अमित अग्रवाल पकड़ लिया गया था। पर, वह थाने लाते समय भाग निकला। हालांकि एसपी पश्चिम डॉ. अनिल कुमार ने सीओ कर्नलगंज अजीत कुमार रजक को पुलिसियां लापरवाही की जांच सौंपी है। साथ ही जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

महिला थाना प्रभारी के कमरे में ठहरी है मॉडल
पीड़ित अभी महिला थाने की प्रभारी के ही कमरे में रुकी है। अधिकारियों के निर्देश भी हैं कि उसे ऐसा आभास न हो कि वह घर से अलग है। थाना प्रभारी वर्षा श्रीवास्तव को दीदी कहते हुए मॉडल ने एक महिला सिपाही की भी तारीफ की। मां से कहा, साथ बैठाकर खाना खिलाती हैं। मां ने कहा कि दो दिन यहां रहेंगे। फिर, गुवाहाटी लौट जाएंगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios