Asianet News Hindi

कोर्ट परिसर में ही बीवी को दे दिया तीन तलाक, मामले की सुनवाई के लिए दोनों आए थे कोर्ट

राजधानी लखनऊ में कोर्ट परिसर में ही एक व्यक्ति द्वारा अपनी बीवी को तीन तलाक देने का मामला सामने आया है। ये उस समय हुआ जब घरेलू हिंसा के मामले के सुनवाई के लिए पति-पत्नी दोनों कोर्ट आए थे। मामले में पत्नी की शिकायत पर पति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है

divorces given to wife in the court premises kpl
Author
Lucknow, First Published Feb 9, 2020, 3:15 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ(Uttar Pradesh ). राजधानी लखनऊ में कोर्ट परिसर में ही एक व्यक्ति द्वारा अपनी बीवी को तीन तलाक देने का मामला सामने आया है। ये उस समय हुआ जब घरेलू हिंसा के मामले के सुनवाई के लिए पति-पत्नी दोनों कोर्ट आए थे। मामले में पत्नी की शिकायत पर पति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। 

तीन तलाक बिल पास हो चुका है। लेकिन इसके बावजूद अभी भी तीन तलाक के मामले सामने आ रहे हैं। मामला राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज का है। यहां की रहने वाली महिला का उसके पति से आपसी विवाद का मामला कोर्ट में चल रहा है। शुक्रवार को वह अपने मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट आई थी। वहां से जैसे ही वह कोर्ट परिसर से बाहर आ रही थी उसके पति ने उसे रोक कर तीन तलाक दे दिया। महिला ने इसकी शिकायत पुलिस से की है। 

2012 में हुई  शादी 
महिला का निकाह फरवरी 2012 में एलडीए कॉलोनी निवासी अबरार अली के साथ हुआ था। महिला के अनुसार शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए उसे प्रताड़ित कर रहे थे। अक्सर उसके साथ मारपीट की जाती थी। पति और ससुराल वालों से आजिज आकर वर्ष 2016 में उसकी तरफ से मोहनलालगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। जिसकी सुनवाई हो रही है। महिला के अनुसार शुक्रवार को घरेलू हिंसा मामले की सुनवाई के लिए वह कोर्ट गई थी। जहां उसका पति अबरार अली भी आया हुआ था।

पुलिस ने दर्ज किया केस 
पीड़ित महिला जब कोर्ट से बाहर निकल रही थी उसी समय उसके पति अबरार ने उसे रोक कर तीन तलाक दे दिया। महिला ने वजीरगंज थाने में लिखित तहरीर दी। इंस्पेक्टर वजीरगंज के मुताबिक महिला की शिकायत पर मुस्लिम महिला विवाह पर सुरक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios