Asianet News HindiAsianet News Hindi

बीआरडी मेडिकल कॉलेज में मरीज को डॉक्टरों ने चढ़ाया एक्सपायरी ब्लड, गोरखपुर में लापरवाही से हुई मरीज की मौत 

गोरखपुर में डॉक्टरों की लापरवाही से मरीज की जान जाने का मामला सामने आया। मामले में जांच के आदेश दिए गए हैं। बताया गया कि एक्सपायरी ब्लड चढ़ाने की वजह से यहां मरीज की जान गई है। 

Doctors offered expired blood to patient in BRD Medical College patient died due to negligence in Gorakhpur
Author
First Published Aug 21, 2022, 2:03 PM IST

रजत भट्ट

गोरखपुर: डॉक्टरों को मरीजों ने भगवान का दर्जा दिया है। लेकिन जाने अनजाने कई बार डॉक्टरों से भी ऐसी गलतियां होती हैं जिससे मरीज की जान चली जाती है। गोरखपुर के मेडिकल कॉलेज में कुछ ऐसा ही देखने को मिला। यहां डॉक्टरों ने एक मरीज को एक्सपायरी ब्लड चढ़ाई जिसमें मरीज की मौत हो गई। दरअसल बताया जा रहा है कि गोरखपुर के सहजनवा के जाल्हेपार के निवासी कुंवर शंकर पांडे का 15 दिन पहले रेल दुर्घटना में पैर कट गया था, जिसके बाद उन्हें गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। यहीं पर एक्सपायरी ब्लड चढ़ाने का यह पूरा मामला सामने आया। 

ड्रेसिंग के लिए 500 और ऑपरेशन के लिए 20 हजार रुपए दिए
भाई जय शंकर पांडे का कहना है, कि उनके भाई कुंवर शंकर पांडे का रेल दुर्घटना में पैर कटने के बाद उन्हें गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। जहां पर उन्हें ड्रेसिंग के लिए 500 और ऑपरेशन के लिए 20000 दिए। वहीं शुक्रवार को कुंवर शंकर पांडे के पैर का ऑपरेशन होना था, जहां डॉक्टरों ने उन्हें एक्सपायरी ब्लड चढ़ाया और कुछ दवाइयों के रिएक्शन होने की वजह से उनकी मौत हो गई। हालांकि जब इसका विरोध किया गया तो डॉक्टर और वहां पर मौजूद लोगों में झड़प भी हुई। कहा जा रहा है कि कुंवर शंकर पांडे 15 दिन पहले बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती हुए थे। जहां उनकी हालत सुधर भी रही थी लेकिन शुक्रवार को ऑपरेशन के दौरान एक्सपायरी ब्लड चढ़ाने की वजह से पूरा मामला बिगड़ा।

बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल को, कुछ नहीं था आता पता
पूरे घटना के बाद बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल गणेश कुमार का कहना है कि मुझे इस केस के बारे में कुछ नहीं पता और ऐसा मामला भी संज्ञान में नहीं आया। वहीं गोरखपुर के डीएम कृष्णा करुणेश को जब इस मामले का पता चला तो उन्होंने कहा कि यह एक बड़ा मामला है इतने बड़े मामले की जानकारी प्रिंसिपल को होनी चाहिए यह चिंताजनक बात है। वहीं उन्होंने कहा पूरे मामले की जांच कराई जाएगी, और जो भी दोषी पाया जाएगा उसके ऊपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।  दोषियों को किसी भी रूप में बख्शा नहीं जाएगा वही गुलरिया पुलिस देर रात मेडिकल कॉलेज पहुंची और परिजनों को समझा कर शव को मोर्चरी में रखवाया, वही गुलरिया थानाअध्यक्ष ने कहा कि तहरीर मिल गई है, और जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

नोएडा: श्रीकांत त्यागी के समर्थन में उतारा त्यागी समाज, महापंचायत में लगे समर्थन के नारे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios