Asianet News Hindi

10वीं तक पढ़ा ये शख्स 100रु. में बना रॉ एजेंट, महिला दारोगा का करता था यौन शोषण

सतेंद्र देहरादून की एक कंपनी के जरिए धौलपुर (राजस्थान) में जल निगम में एसटीपी पंप ऑपरेटर की नौकरी कर रहा था। शहर में तैनात महिला दारोगा से फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। सतेंद्र ने खुद को रॉ एजेंट व अविवाहित होने की बात कही थी। दीपावली पर वह दारोगा की मां से मिलने आया था। उसने खुद को बीटेक पास बताया, जबकि केवल 10वीं तक पढ़ा है।

Fake RA agent arrested, he used to exploit a female inspector asa
Author
Kanpur, First Published Feb 4, 2020, 6:58 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कानपुर(Uttar Pradesh)। भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ (रिसर्च एंड एनालिसिस विंग) का फर्जी एजेंट और एसीपी बना अमरोहा निवासी पंप ऑपरेटर सतेंद्र चौहान एक दिन पहले पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया गया था। बता दें कि सत्येंद्र अपने चार साथियों के साथ बिरहाना रोड से दवा व्यापारी का अपहरण कर उसके स्वजनों से 10 लाख रुपये फिरौती मांगी थी। पूछताछ में ये बात सामने आई कि वह केवल 10वीं तक पढ़ा है और शादी का झांसा देकर एक महिला दारोगा का यौन शोषण भी कर रहा था। गणतंत्र दिवस के दिन वह महिला दारोगा के साथ पुलिस लाइन भी गया था। वहां एक एटीएम बूथ के गार्ड की मदद से सौ-सौ रुपये में उसने रॉ एजेंट व एसीपी का फर्जी आइडी कार्ड बनवाया और वर्दी सिलवाई।

दारोगा की मां बताया वह है बीटेक
सतेंद्र देहरादून की एक कंपनी के जरिए धौलपुर (राजस्थान) में जल निगम में एसटीपी पंप ऑपरेटर की नौकरी कर रहा था। शहर में तैनात महिला दारोगा से दोस्ती हुई थी। सतेंद्र ने खुद को रॉ एजेंट व अविवाहित होने की बात कही थी। दीपावली पर वह दारोगा की मां से मिलने आया था। उसने खुद को बीटेक पास बताया, जबकि केवल 10वीं तक पढ़ा है।

कई दिन तक दारोगा के साथ घूमा
सतेंद्र के मुताबिक दो दिन रुकने के बाद लौट गया था। नवंबर में रेलबाजार आ गया। कई दिन तक दारोगा के साथ भी रहा, तब शादी की बातचीत शुरू हुई। 26 जनवरी को पुलिस लाइन की परेड देखने पहुंचा था।

बार-बार बयान बदल किया गुमराह
एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल ने मीडिया को बताया कि सतेंद्र पहले बार-बार बयान बदलकर गुमराह करता रहा। सख्ती करने पर बताया कि पिता का वर्षों पहले देहांत हो चुका है। 

शादीशुदा है शख्स
सतेंद्र की शादी हो चुकी है। अमरोहा स्थित घर में उसकी मां, पत्नी और छह व तीन वर्ष के दो बेटे हैं। वह पहली बार दीपावली पर दारोगा से मिलने आया था। इसके बाद रेलबाजार में किराए पर कमरा लिया। इसी दौरान मीट व्यापारी फैसल व रेलबाजार के दवा सेल्समैन रोहन समेत अन्य साथियों से मुलाकात हुई।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios