Asianet News HindiAsianet News Hindi

पिता जेल में है बंद, शादी के बहाने पहले 80 हजार और अब दो लाख में बेची लड़की, ऐसे हुई मां को जानकारी

पुलिस को जानकारी दी कि वह अल्पसंख्यक समुदाय से है। उसका पति किसी मामले में जेल में है। बेटी की शादी को लेकर वह परेशान थी। इसे लेकर वह पिछले साल कैंटोमेंट स्थित एक बाबा के मजार पर पहुंची। वहां दशाश्वमेध की एक महिला महिमा से मुलाकात हुई तो उसने बेटी की शादी कराने का भरोसा दिया था। 

Father is in jail, 80 thousand sold under pretext of marriage and now girl sold for two lakhs ASA
Author
Varanasi, First Published Jan 27, 2020, 8:41 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाराणसी (Uttar Pradesh)। पीएम नरेंद्र मोदी के क्षेत्र में मानव तस्करी का मामला सामने आया है। शिवपुर की नाबालिग लड़की को कथित रूप से राजस्थान के जोधपुर में शादी का झांसा देकर 80 हजार में बेच दिया गया। मां के घर आने पर तस्करों ने लड़की को फिर दो लाख रुपए में बेंच दिया। इसकी जानकारी होने पर पीड़िता की मां ने पुलिस से गुहार लगाई है। शिवपुर पुलिस तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर पांचों आरोपियों की तलाश कर रही है। बता दें कि कि पीड़िता का पिता किसी मामले में जेल में बंद हैं और मां उसकी शादी के लिए परेशान थी।

बाबा के मजार पर महिला से हुई थी मुलाकात
पुलिस को जानकारी दी कि वह अल्पसंख्यक समुदाय से है। उसका पति किसी मामले में जेल में है। बेटी की शादी को लेकर वह परेशान थी। इसे लेकर वह पिछले साल कैंटोमेंट स्थित एक बाबा के मजार पर पहुंची। वहां दशाश्वमेध की एक महिला महिमा से मुलाकात हुई तो उसने बेटी की शादी कराने का भरोसा दिया था।

इस तरह जोधपुर पहुंची लड़की
दशाश्वमेध में मिली महिमा ने पीड़िता की मां से कहा कि उसके रिश्तेदार राजस्थान के जोधपुर में रहते हैं। वहां पर बेटी के लिए एक लड़का है। पांच अगस्त 2019 को महिला के साथ वह व उसकी बेटी जोधपुर पहुंची तो मालूम हुआ कि परिवार हिंदू है, लेकिन शादी को तैयार है।

हिंदू रीति-रिवाज में कराई शादी
हिंदू होने और परिवार की स्थित जानने के बाद लड़के के शादी के लिए तैयार होने पर पीड़िता को लगा कि रिश्ता अच्छा है। जिसके कारण अच्छा रिश्ता देखकर वह भी तैयार हो गई। इस दौरान लड़के के परिजनों ने कहा कि दोनों पक्षों को रिश्ता पसंद है। इतनी दूर से आए हैं तो शादी कर लो। वे सारा खर्च उठाने को भी तैयार हैं। 13 अगस्त 2019 को हिंदू रीति-रिवाज के साथ शादी हो गई। इसके बाद वह वापस आ गई।

ऐसे हुई जानकारी
दामाद के नंबर से लड़की से बातचीत होती रही। करीब दो माह पूर्व अचानक वह नंबर बंद हो गया। दशाश्वमेध की महिमा से इस संबंध में बात की तो उसने कहा कि जल्द ही वह बात करा देगी, लेकिन कई दिनों बाद भी उसने बात नहीं कराई। परेशान होने के बाद महिला तीन जनवरी को जोधपुर गई तो वहां पर भी लड़की नहीं मिली। लड़का पक्ष से पूछा तो उन्होंने कहा कि वह किसी दूसरे साथ चली गई है।

मां को दिया 80 हजार का लालच
महिला ने पुलिस से शिकायत करने की बात कही तो उन्होंने बताया कि दशाश्वमेध की महिमा ने लड़की से शादी कराने के लिए 80 हजार लिए थे। अब लड़की को दूसरी जगह पर बेच दिया गया है, जहां से दो लाख रुपये लिए गए हैं। इसके बाद किशोरी की मां ने महिमा से बात की तो उसने 80 हजार रुपये देने का लालच दिया। 

इनके खिलाफ केस दर्ज
किशोरी की मां ने पुलिस को बताया कि उसकी बेटी अब तक लापता है। पता नहीं वह किसी हालत में होगी। इसके बाद महिला ने शिवपुर थाना में महिमा, चेतन, हंसराज, नंदिनी समेत पांच लोगों के खिलाफ मानव तस्करी का मुकदमा दर्ज कराया है।

(प्रतीकात्मक फोटो)

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios