Asianet News HindiAsianet News Hindi

शराब पीने को लेकर अराजक तत्वों से पिता-पुत्र का हुआ विवाद, आरोपियों ने नशे में उठाया खौफनाक कदम

चित्रकूट में घर के पास शराब पीने से मना करने पर आरोपियों ने पिता-पुत्र पर चाकू से हमला कर दिया। हमले में बेटे की हालत गंभीर बताई जा रही है। एक आरोपी की पहचान कर पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

Father son dispute with chaotic elements over drinking alcohol accused took a dreadful step in drunkenness
Author
First Published Aug 26, 2022, 3:26 PM IST

चित्रकूट: उत्तर प्रदेश के चित्रकूट से एक खौफनाक मामला सामने आया है। कर्वी कोतवाली के शंकर बाजार में कुछ बदमाशों ने पिता-पुत्र पर चाकू से जानलेवा हमला कर दिया। हमले के बाद दोनों घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल से रेफर कर दिया है। बताया जा रहा है कि इस हमले में बेटे की हालत गंभीर बनी हुई है। उसके पेट में चाकू से कई बार वार किया गया है। वहीं घटना की जानकारी पुलिस को होते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरूकर दी है और फरार आरोपियों की तलाश में जुट गई है। शराब के नशे में कुछ अराजक-तत्वों ने उन पर हमला कर दिया था। 

शराब पीने से मना करने पर किया जानलेवा हमला
मिली जानकारी के अनुसार, गुरूवार रात एक बजे कुछ अराजक तत्व ज्योतिषाचार्य पं. नारायणदत्त त्रिपाठी के घर के पास बैठकर शराब पी रहे थे। इसी दौरान युवक शराब के नशे में गाली गलौज भी कर रहे थे। आवाज आने पर नारायणदत्त त्रिपाठी के बेटे अनुज त्रिपाठी ने युवकों को वहां शराब पीने और गाली-गलौज करने के लिए मना किय़ा। जिसके बाद उस समय युवक चुपचाप वहां से चले गए। लेकिन थोड़ी देर बाद वह सब फिर उनके घर पर वापस आकर कोहराम मचाने लगे। इसी दौरान कुछ युवक पं. नारायणदत्त त्रिपाठी के दरवाजे पर चढ़कर गालियां देने लगे। इसके बाद उन्होंने घर के बाहर आकर उनको समझाने की कोशिश करने लगे।

भीड़ एकत्र होती देख फरार हुए आरोपी
नारायणदत्त त्रिपाठी के मुताबिक, समझाने के दौरान युवक गाली-गलौज करते हुए उनसे मारपीट करने लगे। इतने में उनका बेटा अनुज त्रिपाठी भी मौके पर आ गया। अराजक तत्वों ने उनके बेटे को घेर लिया और उस पर ताबड़तोड़ चाकू से कई बार हमला किया। बेटे पर हमला होता देख नारायणदत्त त्रिपाठी ने उसे बचाने की कोशिश की। इसी दौरान आरोपितों ने उनके भी हाथ और पेट में चाकू मार दिया। उनके सहयोगी जितेंद्र कुमार गौतम पुत्र उमादत्त गौतम को भी बीच-बचाव करते समय चाकू लगी है। चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर आस-पड़ोस के लोगों को एकत्र होता देखकर आरोपी गाली गलौज करते हुए फरार हो गए।

पुलिस गिरफ्तारी के लिए दे रही दबिश
कोतवाली प्रभारी अशोक कुमार सिंह ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि बताया कि सभी घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बेटे की हालत गंभीर देखते हुए स्वजन उन्हें मेदांता हॉस्पिटल लखनऊ लेकर गए हैं। पुलिस ने मामले की जांच शुरूकर दी है। वहीं एक हमलावर की पहचान हर्षित पटेल के रूप में हुई है। जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

चित्रकूट: बस में मुर्दा कर रहा था सफर, टिकट के पैसे मांगने पर कंडक्टर के उड़े होश

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios