Asianet News HindiAsianet News Hindi

चमकदार सब्जियां आपके सेहत को बिगाड़ सकती हैं, फूड डिपार्टमेंट का खुलासा

इंजेक्शन और कार्बाइड से पक रहे हैं फल और सब्जी। फूड सेफ्टी विभाग बुलंदशहर का चमकदार सब्जियों के खेल का खुलासा। 

food department says polished  vegetables and fruits can be dangerous for health
Author
Bulandshahr, First Published Aug 4, 2019, 4:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बुलंदशहर: एक कहावत है कि हर चमकदार चीज सोना नहीं होती। उसी तरह हर खूबसूरत और चमकदार दिखने वाली सब्जियां पौष्टिक नहीं होती हैं। बुलन्दशहर फूड सेफ्टी विभाग ने फल और सब्जियों को लेकर एक चौंका देने वाला खुलासा कर सब को हैरत में डाल दिया है। फूड सेफ्टी विभाग की टीम ने, बुलंदशहर स्थित नवीन फल-सब्जी मंडी में केमिकल रंग और पाम आयल से पालिश की हुई चमकदार सब्जियों के खेल का खुलासा कर, सात नमूने भी लखनऊ प्रयोगशाला भेज दिए हैं।

क्या है पूरा मामला इस रिपोर्ट में देखिए

चमकदार सब्जियां, पके हुए पीले आम और पाइन एप्पल, दिखने में इतने शानदार की देखने वाले का मन ललचा जाए। लेकिन ये चमकदार और खूबसूरत दिखने वाले फल और सब्जियां आपकी जान के दुश्मन भी बन सकते हैं। कहना है बुलन्दशहर खाद्य सुरक्षा विभाग का। खाद्य सुरक्षा विभाग का दावा है कि इन फल सब्जियों की चमक और रंग रूप के पीछे एक स्याह सच छिपा हुआ है। 

फूड सेफ्टी विभाग के अफसरों की मानें तो, इन सब्जियों की चमक के पीछे केमिकल रंग और पाम आयल का तड़का है। अधिक मुनाफे के लिए इन सब्जियों पर केमिकल रंग और पाम आयल की पोलिश कर चटक रंग दिया जाता हैं, ताकि इन्हें खरीदने के लिए बाजार पहुंचे ग्राहक, इनकी चमक देखने के बाद कीमत पर ध्यान ही ना दे। इतना ही नहीं अधिकारियों का दावा यहां तक है  कि जिन पीले आम, और अनानास को आप देख रहे हैं, ये कार्बाइड से पकाए गए हैं। फूड सेफ्टी अफसरों ने करीब 1000 किलों आम की खेप में कार्बाइड की पुड़ियों पकड़ने का दावा भी किया है। फूड सेफ्टी अफसरों ने आम के साथ दो और चमकदार सब्जियों के सात नमूने, सीलकर लखनऊ प्रयागशाला भेजे हैं। विभागीय अफसरों का दावा है कि, केमिकल और पाम आयल से पालिश की हुई सब्जियों और कार्बाइड से पके आमों के सेवन से कैंसर का खतरा रहता है। ऐसे फल सब्जियों के सेवन से शरीर के अंगों पर भी गलत प्रभाव पड़ता है।

महिलाओं ने कहा-बिना सब्जी के रहना संभव नहीं  

मिलावटी फल, सब्जियों को लेकर बुलन्दशहर के आम लोगों  से बात की गई, तो वो काफी हद तक जागरूक नजर आए। मिलावट को लेकर जिन भी महिलाओं से बात की गई उन सभी ने बताया कि, बाजार में हर सब्जी में अब मिलावट पाई जाती है, मिलावटी दौर में बिना सब्जी के रहना भी तो संभव नहीं। चिंता तो इस बात की है कि ,क्या खाएं और बच्चों को भी क्या खिलाए? 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios