Asianet News HindiAsianet News Hindi

इस कारण रुस से भारत आईं ये युवतियां, काशी में पीपल संग की शादी

हिंदू धर्म अपना चुके 37 रूसी सदस्यों का टूर दो दिनों के लिए इन दिनों काशी पहुंचा हुआ है। इस दौरान सभी सदस्यों ने मंदिरों में दर्जन-पूजन किया। वहीं, मांगलिक दोष मिटाने के लिए तीन युवतियों की हिंदू विधि-विधान से पीपल के साथ शादी कराई गई। अन्य सदस्यों ने रुद्राभिषेक किया। 

For this reason, these girls came to India from Russia, married people from Peepal in Kashi asa
Author
Varanasi, First Published Mar 15, 2020, 12:05 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाराणसी (Uttar Pradesh) । रूस से तीन युवतियां काशी आईं हैं। ये युवतियां पीपल के पेड़ से विवाह कर काशी में मुक्ति और मोक्ष की भी कामना की। दरअसल इन युवतियों की शादी होने वाली है और हिंदू मत मानने की वजह से मांगलिक दोष दूर करने के लिए ही काशी में पीपल के पेड़ से विवाह कर मांगलिक दोष दूर कर रही थी। शनिवार को आयोजित यह अनोखा विवाह लोगों के बीच काफी चर्चा में भी रहा।

अपना चुके हैं हिंदू धर्म
हिंदू धर्म अपना चुके 37 रूसी सदस्यों का टूर दो दिनों के लिए इन दिनों काशी पहुंचा हुआ है। इस दौरान सभी सदस्यों ने मंदिरों में दर्जन-पूजन किया। वहीं, मांगलिक दोष मिटाने के लिए तीन युवतियों की हिंदू विधि-विधान से पीपल के साथ शादी कराई गई। अन्य सदस्यों ने रुद्राभिषेक किया। 

दुर्गा, हनुमान चालीसा सहित याद है कई आरती 
रुद्राभिषेक और शादी समारोह का आयोजन नदेसर पेट्रोल पंप के पास स्थित एक होटल में किया गया। टूरिज्म वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष राहुल मेहता ने बताया कि विदेशी मेहमानों में भारतीय संस्कार एवं संस्कृति के प्रति झुकाव काफी बढऩे लगा है। इसके तहत सभी सदस्यों को आरएनपी मिश्र समेत अन्य ब्राह्मणों ने रुद्राभिषेक कराया। उनको दुर्गा, हनुमान चालीसा सहित कई आरती भी पूरी तरह याद है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios