Asianet News HindiAsianet News Hindi

गए थे टीकाकरण करने पहुंच गए जेल, वजह जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

अवैध तरीके से हेपेटाइटिस बी का टीका लगाते चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। दरअसल इन आरोपियों ने लोगों को टीका लगाते समय 50 रुपए की डिमांड की थी। ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्वास्थ्य व पुलिस विभाग को दी।

Four accused in arrested up police
Author
Bahraich, First Published Aug 31, 2019, 5:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बहराइच (उत्तर प्रदेश). शनिवार को हरदी थाना क्षेत्र में अवैध तरीके से हेपेटाइटिस बी का टीका लगाते चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। दरअसल इन आरोपियों ने लोगों को टीका लगाते समय 50 रुपए की डिमांड की थी। ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्वास्थ्य व पुलिस विभाग को दी।  उप मुख्य चिकित्साधिकारी की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा गया।

डॉ. विजय प्रकाश वर्मा ने मौके पर पहुंच जांच-पड़ताल की तो सारी हकीकत सामने आ गई। एसओ ने शिवानन्द प्रसाद के मुताबिक आरोपियों से जो कागजात मिले हैं उसमें मुख्य चिकित्साधिकारी बहराइच ने 26 जुलाई 2019 को न्यू लोकप्रिय जनकल्याण सेवा संस्थान आगरा को शर्तो के साथ हेपेटाइटिस व टायफाइड का टीका लगाने के लिए अनुबंधित किया गया है। एसओ ने बताया कि संबंधित अधिकारी द्वारा टीकाकरण का अनुबंध 7 अगस्त को निरस्त किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि अनुबंध निरस्त होने के बाद भी आरोपी गांव में टीकाकरण कर रहे थे। 

आरोपियों के पास से मिला ये सामान
एसओ ने बताया कि डिप्टी सीएमओ डॉ. विजय प्रकाश वर्मा की तहरीर पर चारों के खिलाफ धोखाधड़ी व मेडिकल काउंसिल एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। उनके कब्जे से 13 वैक्सीन व 200 डिस्पोजल सिरिंज, रुई व स्प्रिट बरामद हुई। आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। जांच-पड़ताल की जा रही है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios