Asianet News HindiAsianet News Hindi

नन्हें शजीत ने 3 मिनट में मानव शरीर की सभी हड्डियों के गिनाए नाम, मां की ट्रेनिंग से बना लिया नया रिकॉर्ड

यूपी के जिले गाजियाबाद में रहने वाले नन्हें शजीत ने अपना नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज कराया है। उसने सिर्फ 3 मिनट 17 सेकेंड में मानव शरीर की सभी हड्डियों को पहचानते हुए उनके नाम बताए। जिसके बाद ही यह खिताब उसने अपने नाम किया।

Ghaziabad Little Shajit named all bones of human body 3 minutes made new record training of his mother
Author
First Published Sep 11, 2022, 10:18 AM IST

गाजियाबाद: उत्तर प्रदेश के जिले गाजियाबाद से हैरान कर देने वाला सामने आया है क्योंकि तीन साल का बच्चे ने दंग कर देने वाला काम किया। पौने तीन साल की उम्र में बच्चे ने मां की दी गई ट्रेनिंग को सफल कर दिया और अपने नाम एक रिकॉर्ड दर्ज कर लिया है। पौने तीन साल का नन्हा शजीत मूल रूप से राज्य के कौशांबी जिले है लेकिन वह फिलहाल अपने माता-पिता के साथ गाजियाबाद में रहता है। इतनी कम उम्र में शजीत ने इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड बनाकर परिवार के साथ-साथ बाकी लोगों को भी आश्चर्यचकित कर दिया है।

सिर्फ 3 मिनट 17 सेकेंड में बता दिया सभी हड्डियों के नाम
पौने तीन साल के नन्हें शजीत ने महज तीन मिनट 17 सेकेंड में मानव शरीर की सभी हड्डियों को पहचानते हुए उनके नाम बताए है। यह वीडियो रिकॉर्ड करने के बाद शजीत की मां के द्वारा इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड की साइट पर अगस्त के पहले सप्ताह में अपलोड किया गया था। इसका परिणाम अब सामने आया है और इतनी कम उम्र में बच्चे ने अपने नाम रिकॉर्ड कर लिया। दरअसल शजीत की मां पेशे से डेंटिस्ट हैं, जिन्होंने मानव शरीर के विभिन्न हड्डियों को याद करवाने के लिए शजीत को ट्रेनिंग दी थी। अब रिकॉर्ड बनाने वाले नन्हें शजीत पर पूरे परिवार को गर्व है।

अब गिनिज बुक में नाम दर्ज कराने की होगी तैयारी
नन्हें शजीत के अंदर सिर्फ यही कला नहीं है बल्कि वह काफी सारे देशों की राजधानी भी उसको याद है। इसके अलावा वह संस्कृत के कठिन मंत्रों का उच्चारण भी बहुत ही आसानी से कर लेता है, जो अक्सर बड़े भी नहीं कर पाते होंगे। जिस कला में बच्चे ने रिकॉर्ड अपने नाम किया है उस पर उसकी मां डॉ ईशा गुप्ता का कहना है कि शजीत को हड्डियों के नाम याद करवाने में बिल्कुल भी परेशानी नहीं हुई। शजीत काफी तेजी से चीजों को याद कर लेता है। अभी उसने इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड का खिताब जीता है, जिससे उसका मनोबल बढ़ा है। वहीं उनकी मां ईशा अब गिनिज बुक में नाम दर्ज कराने की तैयारी भी जल्द शुरू करेंगी। इसके अलावा उनका कहना यह भी है कि कभी भी रिकॉर्ड बनाने के लिए शजीत पर दबाव नहीं डाला जाएगा। 

लखनऊ: होटल लेवाना अग्निकांड के बाद मुख्यमंत्री योगी ने दिए निर्देश, रिटायर्ड अफसरों समेत 15 अन्य पर गिरी गाज

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios