गोरखपुर: बिना बच्चे के गाय दे रही 4 लीटर दूध, लोगों ने चमत्कार मानकर शुरू की पूजा

| Dec 07 2022, 11:57 AM IST

गोरखपुर: बिना बच्चे के गाय दे रही 4 लीटर दूध, लोगों ने चमत्कार मानकर शुरू की पूजा

सार

यूपी के गोरखपुर में 12 महीने की आग अचानक से दूध देने लगी। बता दें कि हैरान करने वाली बात ये है कि गाय की बछिया बिना बच्चे के ही 4 ​लीटर तक दूध दे रही है। यह देख लोगों ने इसे ईश्वर का चमत्कार बताया। महिलाओं ने गाय पूजा करनी शुरू कर दी।

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले से एक अनोखा मामला सामने आया है। यहां पर 12 महीने की आग अचानक से दूध देने लगी। यह बात जैसे ही फैली तो मामले की सच्चाई जानने के लिए लोगों की भीड़ जुटने लगी। वहीं कुछ लोग गाय की बछिया को दूध देता देख इसे भगवान का चमत्कार मान रहे हैं। बताया जा रहा है कि गाय के दूध देने का यह सिलसिला 250 ग्राम से शुरू हुआ। जिसके दो दिन बाद से गाय की बछिया 4 ​लीटर तक दूध देने लगी। बता दें कि गाय बिना बच्चा दिए दूध दे रही है। जिसके बाद लोगों ने गाय को भगवान शंकर की नंदी गाय मानकर पूजा-अर्चना शुरू कर दी।

लोगों ने इस मामले को बताया ईश्वरीय चमत्कार
वहीं इस मामले के सामने आने के बाद महिलाएं भी गाय की आरती उतारने लगीं। महिलाओं का मानना है कि यह एक ईश्वरीय चमत्कार है। इस घटना के सामने आने के बाद हर कोई हैरत में पड़ गया। बता दें कि यह मामला खोराबार इलाके के झड़वा गांव का है। खोराबार के झड़वा गांव में जैवा के गुरुदेव गोसेवा करते हैं। साथ ही वह अपने परिवार के साथ झड़वा बंधे पर रहते हैं। उनके पास 10 गाय हैं। बताया गया है कि यदि कोई गाय को नहीं पालना चाहता तो वह उन्हें दान कर देता था। वहीं कई बार सड़कों पर बीमार पड़ी और घायल गायों को भी गिरीजी अपने घर लाकर उसकी सेवा करते हैं। 

Subscribe to get breaking news alerts

महिलाओं ने शुरू की गाय की पूजा
बताया जा रहा है कि करीब 15 दिन पहले गिरीजी को किसी ने गाय का एक बच्चा दान किया था। वहीं गाय की उम्र महज 12 महीने की है। जिसके बाद वह गाय के बच्चे को अपने घर ले आए थे। जिसके बाद वह उसकी सेवा करने लगे। वहीं दो दिन पहले अचानक से गिरीजी के परिवार ने देखा कि गाय के बच्चे के थनों से दूध गिरने लगा। पहले लोगों को विश्वास नहीं हुआ, लेकिन जब घर की महिलाओं ने गाय को दुहना शुरू किया तो पहले दिन उसने करीब एक पाव यानी कि 250 मिलीलीटर दूध दिया। वहीं तीन दिनों में दूध बढ़कर 4 लीटर हो गया। मामले की जानकारी मिलने के बाद लोगों की भीड़ जमा हो गई। जिसके बाद लोगों ने गाय की पूजा-अर्चना करना शुरू कर दिया।

गोरखपुर में बिना बेहोश किए हाथ-पैर बांधकर किया ऑपरेशन, पीड़ित महिला ने डॉक्टरों पर लगाए गंभीर आरोप