Asianet News Hindi

अखिलेश यादव का बर्थडे आज, दूसरी तरफ पिता मुलायम की बिगड़ी तबीयत..हॉस्पिटल में कराया गया एडमिट

एक तरफ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव का जन्मदिन है। कार्यकर्ता जगह-जगह अपने नेता के जन्मदिन मना रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ गई है। उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

happy birthday akhilesh yadav Today and Mulayam Singh Yadav has been admitted to gurugram medanta hospital kpr
Author
Lucknow, First Published Jul 1, 2021, 1:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (उत्तर प्रदेश). आज एक तरफ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव का जन्मदिन है। परिवार से लेकर सपा कार्यकर्ता जगह-जगह अपने नेता के जन्मदिन मना रहे हैं। इस मौके पर सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अखिलेश यादव को फोन कर उन्हें  बधाई दी है। वहीं दूसरी ओर समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबीयत बिगड़ गई है। उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूत्रों के मुताबिक, बेचैनी महसूस होने पर उन्हें अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टर उनके स्वास्थ्य पर निगरानी रखे हुए हैं। 

सीएम योगी ने अखिलेश के लिए प्रभु श्री राम से की कामना 
साथ ही ट्वीट करते हुए लिखा 'उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव जी को जन्मदिवस की हार्दिक बधाई। प्रभु श्री राम से आपके उत्तम स्वास्थ्य एवं सुदीर्घ जीवन की कामना करता हूं।'

अपने जन्मदिन पर अखिलेश यादव ने इनको दी बधाई...
सोशल मीडिया पर लगातार अखिलेश यादव के चाहने वाले जन्मदिन की शुभकामनाएं और बधाई दे रहे हैं। तो वहीं कुछ उनके आवास पर पहुंचकर फूल गुलदस्ता भेंटकर बधाई देने जा रहे हैं। वहीं अखिलेश यादव ने ‘नेशनल डॉक्टर्स डे’ की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ! कोरोनाकाल में जबकि भाजपा सरकार बुरी तरह नाकाम है, डॉक्टरों ने ही आगे आकर मोर्चा सँभाला है, उन्हें चतुर्दिक सुरक्षा देना सरकार का दायित्व है। डॉक्टर जीवन की आशा का दूसरा नाम होता है। 

प्रदेश के पहले  सेबसे युवा मुख्यमंत्री बने थे अखिलेश यादव
बता दें कि अखिलेश यादव ने अपनी राजनीतिक सफर साल 2000 में  27 साल की उम्र में शुरू किया था। वह पहली बार कन्नौज से लोकसभा का उपचुनाव जीतकर संसद पहुंचे थे। इसके बाद 2004 और 2009 में लोकसभा चुनाव जीता। फिर अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में सक्रिय राजनीति में आने लगे।  2012 में उन्होंने विधायक का चुनाव जीता और उन्हें समाजवादी पार्टी विधायक दल का नेता चुना गया। इस दौरान उन्होंने अपनी पार्टी को शिखर तक पहुंचने के लिए दिन रात मेहनत की और पूरे प्रदेश में उन्होंने साइकिल यात्रा निकाली। जिससे उन्होंने राज्य की जनता के दिलों में अपनी जगह बना ली। इसके बाद सपा ने अखिलेश के नेतृत्व में  2012 में 225 सीटों पर जीत हासिल की और राज्य में सरकार बनाई। इस तरह महज 38 साल की उम्र में अखिलेश यादव सबसे युवा मुख्यमंत्री बन गए

राजनीतक सफर से ज्यादा पर्सनल लाइफ चर्चा में रही
अखिलेश यादव की जितनी राजनीतक सफर चर्चा में रहा उसके कहीं ज्यादा उनकी पर्सनल लाइफ चर्चा में रही। उन्होंने अपनी कॉलेज दोस्त डिंपल यादव से 24 नवंबर 1999 में शादी की थी। बताया जाता है कि पहले यादव परिवार इस शादी को राजी नहीं था। लेकिन अखिलेश यादव की जिद के आगे उनको झुकना पड़ा और फिर परिवार ने मर्जी से शादी कराई। आज अखिलेश और डिपंल की दो बेटियां अदिति, टीना और एक बेटा अर्जुन है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios