Asianet News HindiAsianet News Hindi

होमगार्ड के लिए अच्छी खबर, DGP ने कहा-कुछ समय के लिए खत्म की गई ड्यूटी-बेरोजगार नहीं किया गया

यूपी सरकार द्वारा 25 हजार होमगार्ड जवानों की सेवाएं लेने से इनकार करने के बाद प्रदेशभर के होमगार्डस में बैचेनी बढ़ गई है। इस बीच डीजीपी ओपी सिंह ने राहत देते हुए कहा है कि होमगार्डों को बेरोजगार नहीं किया गया है। कुछ समय के लिए ड्यूटी खत्म की गई है।

home guards termination is temporary said dgp op singh
Author
Lucknow, First Published Oct 15, 2019, 2:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh). यूपी सरकार द्वारा 25 हजार होमगार्ड जवानों की सेवाएं लेने से इनकार करने के बाद प्रदेशभर के होमगार्डस में बैचेनी बढ़ गई है। इस बीच डीजीपी ओपी सिंह ने राहत देते हुए कहा है कि होमगार्डों को बेरोजगार नहीं किया गया है। कुछ समय के लिए ड्यूटी खत्म की गई है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बढ़े वेतन और बजट को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। हालांकि, उन्होंने यह अभी नहीं बताया कि होमगार्डों की ड्यूटी कब तक नहीं लगेगी। 

बजट की व्यवस्था होने पर वापस ड्यूटी पर लगेंगे होमगार्ड 
डीजीपी ने कहा, होमगार्ड हमारी सुरक्षा व्यवस्था का मजबूत स्तंभ हैं। वो किसी भी मामले में पुलिस जवान से कम नहीं हें। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उनका दैनिक वेतन बढ़कर 672 रुपए कर दिया गया। दुर्भाग्यवश ऐसी स्थिति पैदा हुई कि हम फिलहाल ये मानदेय देने में असमर्थ हैं, जिसकी वजह से 25 हजार जवानों को सेवाओं से हटा दिया गया है। लेकिन उन्हें बेरोजगार नहीं किया गया। अस्थायी रूप से उनकी सेवाएं हटा दी गई हैं। आने वाले दिनों में जब शासन की तरफ से बजट की व्यवस्था होगी, तो दोबारा से उन्हें ड्यूटी पर लगाया जाएगा। 

वेतन बढ़ने से बढ़ी मुसीबत
बता दें, होमगार्ड के जवानों को उनकी ड्यूटी के हिसाब से ही वेतन मिलता है। अगर 25 दिन उसकी ड्यूटी लगती है, तो उसे वर्तमान में प्रतिदिन के 500 रुपए के हिसाब से ही वेतन मिलेगा। इस पर कोई अन्य भत्ता नहीं मिलता। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इनका वेतन 500 रुपए से बढ़कर 672 रुपए हो गया है। 

32 फीसदी तक की कटौती
जानकारी के मुताबिक, होमगार्डों की संख्या में भी 32 फीसदी तक की कटौती की गई है जो कानून व्यवस्था में ड्यूटी कर रहे थे। ये सेवाएं एडीजी पुलिस मुख्यालय, बीपी जोगदंड के आदेश जारी करने के बाद समाप्त की गई हैं। जिसमें 25 हजार होमगार्ड बेरोजगार हो गए हैं। एडीजी ने 28 अगस्त को मुख्य सचिव की बैठक में ड्यूटी समाप्त करने का फैसला लिया था। अब तक 40 हजार होमगार्ड्स की ड्यूटी समाप्त की जा चुकी है। होमगार्ड को 25 दिन के बजाय अब 15 दिनों की ही ड्यूटी मिलेगी।

योगी के मंत्री ने कही थी ये बात
आपको बता दे कि उत्तर प्रदेश में 90 हजार से ज्यादा होमगार्ड्स हैं। हाल ही में एक इंटरव्यू में योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री और राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने कहा कि होमगार्ड विभाग के लिए आवंटित बजट वर्तमान में नहीं बढ़ाया जा सकता है लेकिन भविष्य में इसे बढ़ाने के लिए कदम उठाए जाएंगे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios