Asianet News HindiAsianet News Hindi

मौत के मुंह में जा चुका था शख्स, पुलिस के 2 जवानों ने सीना दबाया, मुंह में सांस भरी और जिंदा हो गया वो..

एक युवक अपनी पत्नी से लड़ने के बाद इतने गुस्से में आ गया कि वो रस्सी और दुपट्टा लेकर कमरे में चला गया। जहां उसने अंदर से कमरा बंद कर लिया और फंदे पर झूल गया।

Husband tried to commit suicide in up
Author
Hardoi Road, First Published Aug 21, 2019, 5:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हरदोई (यूपी). फरिश्ता बनकर आए यूपी पुलिस के दो जवानों ने एक युवक को मौत के मुंह में से सकुशल जिंदा बचा लिया। गांववालो ने पुलिसकर्मियों के इस जज्बे की सराहना की। दरअसल एक युवक अपनी पत्नी से लड़ने के बाद इतने गुस्से में आ गया कि उसने अपने आप को कमरा बंद कर लिया और रस्सी का फंदा बनाकर झूल गया। पत्नी के बार-बार चिल्लाने के बाद भी दरबाजा नहीं खोला। पत्नी ने इस बात की जानकारी डायल 100 को दी। मौक पर पहुंचकर पुलिस ने दरवाजा तोड़कर युवक को फंदे से नीचे उतारा। उसके बाद युवक की छाती को ठोक कर किसी तरह मुंह में सांस भरी। इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कर दिया। अगर जरा सी देरी हो जाती तो युवक की मौत हो जाती। 

पत्नी बोली- वो आए दिन शराब पीकर आता है
पीड़ित युवक शिवकुमार हरदोई जिले के धन्नूपुरवा का रहने वाला है। पत्नी रजनी के मुताबिक वह शराब का आए दिन शराब पीकर घर आता है। परिवार में झगडा करना उसकी आदत हो गई। रजनी के अनुसार उसके परिवार में चार बच्चे हैं। घर का सारा खर्च शिवकुमार की मजदूरी पर निर्भर है। लेकिन, शराब पीने के चलते बच्चों की पढ़ाई और दो जून की रोटी का भी बंदोबस्त नहीं हो पा रहा है। इसको लेकर घर में आए दिन विवाद होता रहता। 

पहले पत्नी को पीटा, फिर लगा ली फांसी
जानकारी के मुताबिक घर में दोनो के बीच काफी झगड़ा हुआ। शिवकुमार ने पहले पत्नी रजनी को लात-घूसों से जमकर पीटा। फिर वह रजनी का दुपट्टा व रस्सी लेकर कमरे में जाकर दरवाजा बंद कर लिया। रजनी काफी देर तक दरवाजा खोलने की गुहार पति से लगाती रही। लेकिन उसकी बातों का शिवकुमार पर कोई असर नहीं हुआ। हारकर रजनी से डायल 100 पर जानकारी दी। जिससे मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़ दिया। अंदर का मामला देखकर पुलिसकर्मियों के होश उड़ गए। बेड के ऊपर दुपट्टे और रस्सी से शिवकुमार झूलता हुआ मिला था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios