Asianet News HindiAsianet News Hindi

रायबरेली में महिला को असलहा दिखा बंधक बनाकर की लूटपाट, पीड़िता ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

रायबरेली में महिला को बंधक बनाकर की गई लूटपाट का वीडियो और फोटो घटना के दो दिन बाद वायरल हो रहा है। जहां एक ओर पुलिस इस मामले को झूठा बता रही है तो वहीं दूसरी ओर महिला का आरोप है कि पुलिस मामले को दबाने पर लगी है।

In Rae Bareli woman robbed by showing weapon a hostage victim made serious allegations against police
Author
Rae Bareli, First Published Aug 11, 2022, 1:37 PM IST

रायबरेली: यूपी में गुंडागर्दी, हत्या, लूटपाट की घटनाएं आम हो गई हैं। बदमाशों के अंदर पुलिस का भी डर नहीं दिखाई देता है। आए दिन बदमाश घरों में घुसकर चोरी की घटनाओं को अंजाम देते हैं। इन वारदातों पर नियंत्रण लगाने के बजाय कभी-कभी पुलिस खुद इन मामलों को दबाने में लग जाती है। ऐसी ही एक वारदात रायबरेली में हुई है। जहां पर बदमाश रात में घर में घुस कर चोरी जैसी घटना को अंजाम देकर फरार हो गए। तो वहीं पुलिस मामले की जांच करने के बजाय दबाने में लग गई है।

बंधक बनाकर उड़ाए इतने लाख
महराजगंज कोतवाली क्षेत्र के कक्केपुर गांव की रहने वाली सत्यलता के घर पर चोरी हुई है। सत्यकला के अनुसार, मंगलवार की रात में पति बृजेश कुमार और उनका परिवार छत पर सो रहा था। जबकि वह नीचे सो रही थी। उसी रात पांच बदमाश असलहा लेकर घर के अंदर आए और उनके मुंह में कपड़ा ठूंस कर अंदर ले गए जिसकी वजह से वो मदद के निए नहीं पुकार पाई। इतना ही नहीं बदमाशों ने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी। सत्यकला ने बताया कि बदमाशों ने लॉकर तोड़ कर जेवर सहित 2 लाख रुपए लूट लिए। बदमाशों ने उनको चारपाई से बांध दिया और पूरी रात वह उसी तरह से बंधी पड़ी रही। 

2 दिन बाद फोटो और वीडियो वायरल
पीड़िता के पति बृजेश ने जब नीचे आकर अपनी पत्नी को इस हालत में देखा तो उन्होंने पुलिस को घटना की जानकारी दी। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने रस्सी खोली।घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे महराजगंज CO राम किशोर सिंह और कोतवाल जितेंद्र प्रताप सिंह ने घटना की जांच की है। वहीं घटना के दो दिन बाद मामले का वीडियो और फोटो वायरल हो रहा है। वीडियों में महिला चारपाई में बंधी हुई दिख रही है। जहां पुलिस इस मामले को झूठा बता रही है वहीं महिला ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा है कि पुलिस इसे गंभीरता से नहीं ले रही है और मामले को दबाने में लगी हुई है। 

SP ने झूठा बताया मामला
वहीं इस पूरे मामले पर SP आलोक प्रियदर्शी ने बताया है कि महिला की ओर से बंधक बना कर लूटपाट करने की शिकायत दर्ज कराई गई थी। जब घटना की जांच की गई तो महिला को तरफ से लगाया गया आरोप झूठा पाया गया। सूत्रों के अनुसार महिला का उसके पट्टीदारों से जमीन का विवाद चल रहा है। इसी को लेकर दोनों पक्षों के बीच अनबन चल रही है। घटना से पहले 6 अगस्त को पहले पक्ष की तरफ से दूसरे पक्ष के खिलाफ मारपीट और छेड़खानी करने का आरोप लगाया गया था।

नए एसपी के चार्ज लेते ही रायबरेली में दिनदहाड़े हुई लूट, महिला एसआई से 5 लाख रुपये लेकर चोर फरार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios