Asianet News HindiAsianet News Hindi

अपने हाथों से देना चाहती हूं निर्भया के दरिंदों को फांसी...महिला शूटर ने खून से लिखा अमित शाह को पत्र

तिहाड़ जेल में एक ओर जहां निर्भया के दोषियों को फांसी देने की तैयारी की जा रही है। वहीं, इंटरनेशनल शूटर वर्तिका सिंह ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को खून से पत्र लिख मांग की है कि निर्भया के गुनहगारों को एक महिला द्वारा ही फांसी दी जाए।

international shooter vartika singh writes letter in blood to amit shah KPU
Author
Lucknow, First Published Dec 15, 2019, 10:41 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh). तिहाड़ जेल में एक ओर जहां निर्भया के दोषियों को फांसी देने की तैयारी की जा रही है। वहीं, इंटरनेशनल शूटर वर्तिका सिंह ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को खून से पत्र लिख मांग की है कि निर्भया के गुनहगारों को एक महिला द्वारा ही फांसी दी जाए। वर्तिका ने पत्र में लिखा है, मैं दोषियों को फांसी के फंदे पर लटकाना चाहती हूं। इससे पूरे देश में संदेश जाएगा कि एक महिला भी फांसी दे सकती है। 

महिला कलाकार सांसद दें मेरा समर्थन
शूटर ने पत्र में लिखा है, निर्भया के दोषियों ने जैसी बर्बरता एक लड़की के साथ की है, उन्हें सजा देने का हक भी एक महिला को ही मिलना चाहिए। मैं चाहती हूं कि महिला कलाकार और सांसद मेरा समर्थन दें। ताकि समाज में बदलाव आ सके।

कौन हैं वर्तिका सिंह
वर्तिका यूपी के प्रतापगढ़ के रायचंद्रपुर गांव की रहने वाली हैं। साल 2013-14 तक दिल्ली स्थित इंद्रप्रस्थ कॉलेज फॉर वीमेन की छात्रसंघ अध्यक्ष रहीं। 2012 में जर्मनी और 2013 में सिंगापुर में आयोजित शूटिंग प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। ये राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर होने वाली शूटिंग प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल प्राप्त कर चुकी हैं। इस कामयाबी के लिए इन्हें कई राजनेता शुभकामनाएं दे चुके हैं। 2013 में वर्तिका को राष्ट्रपति पदक से भी सम्मानित किया गया था।

बाबरी मस्जिद के पक्षकार से की थी हाथापाई
वर्तिका 3 सितंबर 2019 को बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी से राम मंदिर को लेकर बात करने पहुंची थीं। जिसके बाद अंसारी ने वर्तिका पर कथित हाथापाई का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ केस दर्ज करवाया था। इसपर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने उन्हें कस्टडी में लेकर 4 घंटे बिठाए रखा और फिर लखनऊ भेज दिया। वर्तिका की एडवोकेट संगीता ने बताया था कि अंसारी ने वर्तिका पर फर्जी आरोप में केस दर्ज कर उत्पीड़ित किया। वर्तिका के साथ बातचीत में उन्होंने देश के खिलाफ कई बाते कहीं थी। 

18 दिसंबर को जारी हो सकता है डेथ वारंट
बता दें, दिल्ली के तिहाड़ जेल में निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाने की तैयारी पूरी हो गई है। माना जा रहा है कि 18 दिसंबर के बाद किसी भी दिन निर्भया के दोषियों को फांसी की सजा दी जा सकती है। तिहाड़ जेल प्रशासन ने यूपी जेल मुख्यालय से जल्लाद की मांग की है। जवाब में डीजी जेल आनंद कुमार ने कहा है कि यूपी में दो जल्लाद हैं, जिनमें से एक को भेजा जाएगा। संभावना जताई जा रही है कि मेरठ का पवन जल्लाद ही निर्भय के गुनहगारों को फांसी पर लटकाएगा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios