Asianet News Hindi

कमलेश तिवारी की मां का आरोप: 13 दिन बाहर नहीं निकलते, दबाव में CM योगी से मिलने को हुए मजबूर

यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने लखनऊ में मारे गये हिन्‍दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी के परिजन से रविवार को मुलाकात की। हालांकि, कमलेश की मां ने इस मुलाकात पर असंतोष जताया है।

kamlesh tiwari mother not satisfied after meeting with yogi adityanath
Author
Lucknow, First Published Oct 20, 2019, 7:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh). यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने लखनऊ में मारे गये हिन्‍दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी के परिजन से रविवार को मुलाकात की। हालांकि, कमलेश की मां ने इस मुलाकात पर असंतोष जताया है। बता दें, मुख्‍यमंत्री ने अपने आवास पर कमलेश की मां कुसुमा, पत्‍नी किरण और परिवार के कुछ अन्य सदस्यों से मुलाकात की। इस दौरान उन्‍होंने पीड़ित परिवार को पूरी मदद का आश्‍वासन देते हुए कहा कि सरकार इस गम्‍भीर मामले की गहराई से जांच कर रही है। इसके दोषी लोगों को कतई बख्‍शा नहीं जाएगा।

कमलेश की मां ने कहा, मजबूरी में योगी से मिलने गए थे हम
कमलेश की मां कुसुमा ने इस मुलाकात पर असंतोष जताते हुए कहा कि पुलिस के दबाव की वजह से मजबूरन मुख्यमंत्री से मिलने जाना पड़ा। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री के हावभाव हमारी उम्मीद के मुताबिक नहीं थे। हम बिलकुल संतुष्ट नहीं हैं। हमने (मुख्यमंत्री से) पूछा कि कमलेश की सुरक्षा क्यों हटायी गई? क्यों उसका बेरहमी से कत्ल हुआ? हिन्दू धर्म में (घर में किसी की मृत्यु हो जाने पर) 13 दिन कहीं बाहर नहीं निकला जाता है, लेकिन मुख्यमंत्री का आदेश था, इसलिये पुलिसवाले हमारे पीछे पड़े थे। मजबूरी में मिलने जाना पड़ा। 

उन्होंने कहा, हमारी इच्छा के मुताबिक मुख्यमंत्री का हाव भाव नहीं था। अगर हम इतने संतुष्ट होते तो हमारा क्रोध क्यों उबलता? अगर इंसाफ नहीं मिला तो हम खुद तलवार उठाएंगे। बता दें, कुसुमा ने भाजपा के एक स्थानीय नेता शिव कुमार गुप्ता पर जमीन के विवाद को लेकर अपने बेटे की हत्या का इल्जाम लगाया है। लेकिन अभी उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है। वहीं, कमलेश की पत्‍नी किरण ने कहा, योगी ने हरसम्‍भव कार्रवाई का आश्‍वासन दिया है। हम उनसे हुई मुलाकात से संतुष्‍ट हैं।

अखिलेश यादव ने कही ये बात
समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कमलेश तिवारी के परिजन से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुलाकात पर कहा कि उम्मीद है कि योगी ऐसी ही हमदर्दी हाल में अन्य जिलों में मारे गये लोगों के परिवारजन के प्रति भी दिखायेंगे। अखिलेश ने ट्वीट कर लिखा, प्रदेश की राजधानी में सरेआम हुई बेखौफ हत्या के शिकार मृतक के शोक संतप्त परिवार से मिलना यथोचित कदम है। आशा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐसी ही सहृदयता इलाहाबाद, कन्नौज, झांसी और मेरठ में भी प्रकट करने जाएंगे, जहां प्रदेश की बदहाल कानून- व्यवस्था के शिकार अन्य लोगों के परिजन रहते हैं। 

क्या है पूरा मामला
बता दें, 18 अक्टूबर को हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की नाका हिंडोला स्थित खुर्शेदबाग इलाके में उनके घर के अंदर गला रेतकर और गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। सीसीटीवी फुटेज से सुराग मिलने के बाद सूरत से मौलाना मोहसिन सलीम शेख, फैजान युनूस भाई जिलानी और रशीद शेख को गिरफ्तार किया गया। रशीद और मोहसिन ने हत्या की साजिश रची थी, जबकि फैजान ने हतयाकांड के लिए सारे सामान जुटाए थे। हत्याकांड को अंजाम भगवा कपड़ा पहन अशफाक और फरीद ने दिया, जोकि फरार हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios