जानिए धर्म सिंह को BJP में एंट्री न मिलने की 5 वजह, CM योगी को लेकर दिया था बयान, राम के नारे को भी रोका

| Dec 02 2022, 10:23 AM IST

जानिए धर्म सिंह को BJP में एंट्री न मिलने की 5 वजह, CM योगी को लेकर दिया था बयान, राम के नारे को भी रोका

सार

पूर्व मंत्री डॉ. धर्म सिंह सैनी इन दिनों खासा चर्चाओं में हैं। उन्हें भाजपा में एंट्री न मिलने के बाद कई तरह की बातें सामने आ रही हैं। हालांकि जानकार बता रहे हैं कि इसके पीछे अहम कारण उनकी ओर से की गई बयानबाजी है। 

सहारनपुर: पूर्व आयुष मंत्री डॉ. धर्म सिंह सैनी इन दिनों खासा चर्चाओं में है। वह दल-बल के साथ भाजपा में शामिल होने के लिए जा रहे थे लेकिन बीच रास्ते से ही उन्हें वापस आना पड़ा। बताया जा रहा है कि सीएम योगी ने उन्हें अपने मंच से भाजपा ज्वॉइन कराने से मना कर दिया। इसके बाद अब संगठन का दूसरा खेमा उनकी एंट्री की पूरी जोर आजमाइश में लगा हुआ है।

भाजपा से किनारा करने के बाद दिए थे कई विवादित बयान 
मीडिया रिपोर्टस में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि चुनाव में धर्म सिंह सैनी की अनर्गल बयानबाजी भाजपा में उनकी एंट्री को बैन करवा सकती है। पूर्व मंत्री से लेकर वर्तमान तक ने उनकी ज्वॉइनिंग में लंगड़ी फंसाने का मन बना लिया है। उनके द्वारा की गई बयानबाजी ने ही उनकी एंट्री पर यह रोक भी लगाई है। तो चलिए धर्म सिंह सैनी के कुछ प्रमुख बयानों पर एक नजर डालते हैं- 
1- डॉ धर्म सिंह सैनी ने कहा था 'भाजपा दमनकारी सरकार है। जो दलितों और पिछड़ों का दमन करती आई है। वर्करों, कार्यकर्ताओं और जनप्रतिनिधियों का शोषण इस सरकार में किया गया है। समय का इंतजार था। इसीलिए भाजपा से इस्तीफा दिया। दलितों और पिछड़ों का शोषण हो रहा था इसी कारण से इस्तीफा दिया।'
2- जिस दौरान डॉ धर्म सिंह सैनी चुनाव जीतने के लिए मुस्लिमों को रिझाने का प्रयास कर रहे थे उस समय उन्होंने अपनी एक सभा में जय श्री राम के नारे लगाने तक से सभी को रोक दिया था। इसी के साथ बीजेपी के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी भी की थी। 
3- पूर्व आयुष मंत्री ने चिलकाना की एक सभा में इंशा अल्लाह आपकी जीत होगी बोलकर खासा सुर्खियां बटोरीं थी। उन्हें उस सभा में जमकर तालियां भी मिली थीं। इस जनसभा में इमरान मसूद भी मौजूद थे। 
4- जनसभा के दौरान डॉ. धर्म सिंह सैनी ने सीएम योगी को मठ भेजने का बयान तक दे डाला था। इसी के साथ उन्होंने बीजेपी के कई पूर्व मंत्रियों के खिलाफ भी विवादित बयान दिए थे। भाजपा सरकार में पूर्व गन्ना मंत्री का नाम लिए बिना उन्होंने कहा था कि एक थानाभवन वाला मुख्यमंत्री बना था। गन्ना चोर और चीनी चोर जैसी उपाधि देकर भी उन्होंने खूब वाहवाही बटोरी थी। 
5- एक जनसभा के दौरान ही उन्होंने कहा था कि 'भाजपा वालों के राम नहीं हैं, सैनी समाज के भी राम हैं। यदि तुम ऐसा करोगे तो मैं भी भारतीय जनता पार्टी के कैंडिडेट की सैनियों के गांव में एंट्री बंद करवा दूंगा। गांव में गाड़ियां घुसनी तक बंद करवा दूंगा। मैंने चूड़ियां थोड़ी ही पहन रखी हैं।'

Subscribe to get breaking news alerts

चुनाव से पहले भाजपा को कहा था अलविदा 
ज्ञात हो कि 2022 विधानसभा चुनाव के दौरान डॉ. धर्म सिंह सैनी ने भाजपा को अलविदा कह दिया था। उन्होंने सपा का दामन थामा था और उन्हें नकुड़ विधानसभा से टिकट भी मिला था। हालांकि चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। वह दो बार मंत्री और चार बार विधायक रह चुके हैं। 2022 में मिली हार के बाद वह काफी असहाय महसूस कर रहे थे। 

कानपुर: SP नेता इरफान सोलंकी की बढ़ीं मुश्किलें, राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ करने पर बढ़ सकती हैं ये धाराएं