Asianet News HindiAsianet News Hindi

ग्रैंडमास्टर ने बंद की सपा प्रमुख अखिलेश यादव और ट्रोलर्स की बोलती बंद, पूर्व सीएम नहीं दे सके शिफूजी का जवाब

क्या सम्भावित कारण हो सकता है, अखिलेश यादव की इस प्रकार की ट्वीट का, जिसके कारण उन्हें ये सब सुनना पड़ रहा,और लाखों युवाओं का तरकपूर्ण विरोध झेलना पड़ रहा? 

legendary Grandmaster Shifuji Shaurya Bhardwaj challenge former cm akhilesh Yadav apa
Author
New Delhi, First Published Jun 30, 2022, 7:55 PM IST

लेखक- कात्यायनी सिंह यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने facebook, twitter वेरिफ़ायड अकाउंट (verified account) से ग्रांडमास्टर शिफूजी महाराज के ख़िलाफ़ एक तरफ़ा,  (unverified बग़ैर facts वाला) ट्वीट किया,जिसमें इंडिया टुडे के सन 2016-17 वाले एक पुराने आर्टिकल का स्क्रीन शॉट डाला, जो कि इस प्रकार प्रतीत होता है कि बग़ैर किसी वर्तमान तथ्य के जांचे, जैसे कि मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच और रक्षा मंत्रालय, सम्भावित ही Military Intelligence द्वारा ग्रांडमास्टर शिफूजी को 2017 में detailed inquires में Clean Chit दी गयी थीं।

इन तथ्यों के बारे में जांच-पड़ताल करे बग़ैर ही अखिलेश जी ने ट्वीट कर डाला। मास्टर शिफूजी साहब के ख़िलाफ़ इस पोस्ट पर जब आप कमेंट्स पढ़ेंगे तो आपको समझ आएगा कि अखिलेश यादव आज तक की पूरी राजनैतिक जीवन यात्रा में सबसे बुरी तरह से ट्रोल हो रहे हैं। लाखों देशभक्त हिंदू-मुस्लिम-सिख ईसाई युवाओं ने देश-विदेश से ग्रांडमास्टर शिफूजी के समर्थन में तथ्यों के साथ मोर्चा खोल दिया है। ये सभी युवा मास्टर शिफूजी महाराज को अपना आदर्श, गुरु और एक सच्चा बेबाक़ दलेर राष्ट्रभक्त मानते हैं।

कमेंट्स के अनुसार, ग्रांडमास्टर शिफूजी को ये युवा इस समय का सबसे बड़ा क्रांतिकारी गुरु और एक विशेष योद्धा मानते हैं। इन युवाओं ने Mitti commandos mentoring कमांडोस मेंटॉरिंग, registered logos ट्रेड्मार्क्स के official सबूत, मुंबई पुलिस और रक्षा मंत्रालय की Clean Chit और साक्ष्यों के साथ अखिलेश जी की पोस्ट पर अपने “मास्टरजी” के समर्थन में ग़दर मचा दी है। सबसे ज़्यादा ये देशभक्त युवा अखिलेश यादव पर किसी “टोंटी” के बारे में तंज कस रहे हैं, शायद किसी विशेष “टोंटी” या टोंटियों के समूह का कुछ बड़ा इतिहास है अखिलेश जी के साथ? भारत में पहली बार किसी एक व्यक्ति विशेष Grandmaster Shifuji sir के साथ इतने लाखों युवा सबूतों, तथ्य और पूरी निष्ठा के साथ किसी इतने बड़े राष्ट्रीय स्तर के नेता से भिड़ गए हैं।

इस प्रकार का समर्थन और करोड़ों युवाओं का भरोसा यह साबित करता है कि आज भारत वर्ष में एक ऐसा क्रांतिकारी व्यक्तित्व है जिनका नाम मास्टर शिफूजी साहब महाराज है और जिनके समर्थकों, शिष्यों को सबसे पहले गर्व है हिंदुस्तानी होने पर और जात-पात ऊंच-नीच के अलावा सिर्फ़ अपने गुरु मास्टरजी के द्वारा बताए गए राष्ट्रहित के मार्ग पर चल रहे हैं। क्या सम्भावित कारण हो सकता है, अखिलेश यादव की इस प्रकार की ट्वीट का, जिसके कारण उन्हें ये सब सुनना पड़ रहा,और लाखों युवाओं का तरकपूर्ण विरोध झेलना पड़ रहा?  

legendary Grandmaster Shifuji Shaurya Bhardwaj challenge former cm akhilesh Yadav apa

विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार, अखिलेश यादव का ग्रांडमास्टर शिफूजी के विरुद्ध यह द्वेष पूर्ण अपमानजनक ट्वीट इसलिए किया गया हो सकता है, क्योंकि मास्टर शिफूजी द्वारा भारत गणराज्य के रक्षा मंत्री (defence minister of India) राजनाथ सिंह जी से 4 दिनों के बीच में देशहित के लिए निःस्वार्थ 2 बार हुई बैठकों (meetings) में मास्टर शिफूजी द्वारा माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की अध्यक्षता वाली समिति, भारतीय सेनाओं के प्रमुखों और NSA (National Security Advisor ) अजित डोभाल जी के द्वारा प्रस्तावित और रक्षा मंत्रालय द्वारा पारित अग्निवीर योजना (Agniveer scheme) में 2 वर्ष की छूट के निर्णय का समर्थन किया जो कि सम्भावित ही युवाओं के हित का उच्च निर्णय है।

मास्टर शिफूजी ने निःस्वार्थ के साथ विनम्र सुझाव दिए और इसके साथ-साथ (Grandmaster Shifuji Shaurya Bhardwaj) ग्रांडमास्टर शिफूजी द्वारा Indian special forces को निरंतर रूप से मिट्टी सिस्टम (Mitti System) की निःशुल्क कमांडोज मेंटॉरिंग (commandos mentoring) दिए जाने वाले निः स्वार्थ सदैव की तरह निः शुल्क प्रशिक्षण प्रदान करने का प्रस्ताव प्रेषित किया गया था । राजनैतिक विशेषज्ञों के अनुसार अखिलेश यादव की द्वेषपूर्ण ट्वीट मास्टर शिफूजी के ख़िलाफ़ शायद इस कारण से ही की गयी है? समझ के परे यह है की ग्रांडमास्टर शिफूजी जैसे सत्य सनातन धर्म के प्रचारक, एक सच्चे राष्ट्रभक्त, करोड़ों युवाओं के प्रेरणा,के विरुद्ध अखिलेश यादव ने अपमानजनक ट्वीट किया, लेकिन क्या आज तक यासिन मालिक, मोहम्मद अजमल कसाब, बुरहान बानी, कन्हैया यादव, गौरव पतीयल, विकास लगरपुरिया, सय्यद सलाहुद्दीन, हरविंदर सिंघ रिंदा, लखबिर लांडा, सतिंदर यादव, परमेंद्र यादव, मौलाना अज़हर मसूद, अफ़ज़ल गुरु, दवूद इब्राहिम जैसों के ख़िलाफ़ कभी कोई ट्वीट किया और न केंद्र सरकार से मांग की। इन सभी की फ़ंडिंग और कुकर्मों की जाँच करने की? लेकिन ग्रांडमास्टर शिफूजी के विरुद्ध ही क्यों मोर्चा खोला?

अखिलेश जी केंद्र सरकार से मास्टर शिफूजी साहब की जांच की मांग कर डाली, अकल्पनीय, अविश्वसनीय। क्या ग्रांडमास्टर शिफूजी को target इसीलिए बनाया जा रहा है क्योंकि वे अपनी बब्बर शेर जैसी दहाड़ वाली आवाज़ में बेख़ौफ़, बेझिजक “वन्दे मातरम, जय हिंद, भारत माता की जय”कहते हैं और अपने आपको एक अभिमानी सनातनी “हिंदू” कहते हैं जो सभी के धर्मों का सम्मान करते है और देश के ग़द्दारों के ख़िलाफ़ दिलेरी से खड़े रहते हैं , और हिंदू मुस्लिम को बाँटने, काटने की राजनीति के ख़िलाफ़ खड़े रहते हैं, या फिर इसलिए, क्योंकि मास्टर शिफूजी साहब की सभी direct,indirect माध्यम से लगभग 70 करोड़ लोगों की Fan Following है?  

legendary Grandmaster Shifuji Shaurya Bhardwaj challenge former cm akhilesh Yadav apa

कौन हैं ग्रांडमास्टर शिफूजी शौर्य भारद्वाज? क्या मास्टर शिफूजी फ़र्ज़ी Fake,Fraud हैं या एक सच्चे देशभक्त Living Legend? विश्वसनीय रेटायअर्ड कमांडोस, स्पेशल फ़ॉर्सेज़ अधिकारियों, रिटायअर्ड इंटेलिजेन्स अधिकारियों, एटीएस, एसटीएफ़ ,एनएसजी, Black Cat Commandos,कमांडोज, गरुड़ कमांडोज, नेवी मार्कोस (marcos) कमांडोज के retired commanding officers के हवाले से यह अखंड सत्य सामने आया है कि ग्रांडमास्टर शिफूजी कमांडोज के लिए विशेष रूप से अति (Vital) आवश्यक “मिट्टी सिस्टम” (Mitti System) के आविष्कारक हैं और दो दशकों से भी अधिक समय से भारतीय सेनाओं (Army,Navy,AirForce) के कमांडोस और specialised यूनिट्स को “निः शुल्क” प्रशिक्षण प्रदान करते हैं।

आज तक किसी भी मेंटॉरिंग सर्विसेज़ का फ़ोटोज़, विडीओज़ और पत्राचार कभी भी इंटर्नेट पर share नहीं करते, लगभग 800 से अधिक निः शुल्क (Free of Cost) कमांडोज ट्रेनिंग (commandos training) करने वाले विश्व के एकलौते commandos mentor हैं जो की साथ साथ एक बहुत बड़ेसनातन प्रचारक, एक विचारक और अंतर्रष्ट्रिय सिलेब्रिटी भी हैं। यह वही भारतीय हैं जिन्हें विश्व के एकलौते और भारत के प्रथम ऐसे नागरिक होने का गौरव (honour and Acknowledgement) प्राप्त है, जिन्होंने Israel इजरायल से स्नातक (graduation) सर्टिफ़िकेशन कोर्स और पीएचडी (PhD) certification कोर्स किया है, और वो भी काउंटर-टेररिज़म (counter-terrorism), काउंटर इन्सर्जेन्सी (counter-insurgency), आर्म्ड लीथल अर्बन वॉर्फ़ेर (Armed Lethal Urban Warfare) जैसी घातक ख़तरनाक professional फ़ील्ड में। हमारी पूरी डिटेल्ड डिजिटल जाँच पड़ताल से सबूतों और व्यक्तिगत गवाही reliable testimonies से यह भी मालूम पड़ा है की ग्रांडमास्टर शिफूजी ने अपने जीवन का अधिकतम समय सनातन धर्म शिक्षा, सनातन शास्त्र, भारतीय अखाड़ा, लीथल मिलिटेरी मार्शल आर्ट्स, warfare शस्त्र और counter-terrorism की कला, ज्ञान अर्जन और शिक्षा प्राप्त करने में गुज़ारा है।

सभी पक्ष खंगालने से यह पता चला कि ग्रांडमास्टर शिफूजी ने कभी भी, कहीं भी यह नहीं कहा, या लिखा या दर्शाया की वह भारतीय सेनाओं के किसी भी विंग या विभाग के कोई अधिकारी officer हैं या कोई कमांडो commando हैं, पूरे दस्तबेजों और दावों को खँगालने से यह भी सत्य सामने आया कि एक भी सबूत उनके ख़िलाफ़ नहीं पाया गया, जो यह साबित कर सके कि मास्टर शिफूजी फ़र्ज़ी,धोखेबाज़ fake,fraud हैं या कभी भी किसी के साथ भी कोई भी धोखा-धड़ी की हो (grandmaster shifuji never claimed to be an army officer or a commando,there is not a single proof against him)। एक पूरी Digital Professionals की टीम की research यह साबित करती है कि ग्रांडमास्टर शिफूजी सर के ऊपर जो आरोप लगाए गए थे वो बहुत ही ज़्यादा गम्भीर थे और सीधे रक्षा मंत्रालय (ministry of Defence)से सम्बंधित थे इसीलिए सीधे यह जाँच उच्चतम स्तर पर करी गयी थी, रक्षा मंत्रालय ने अपनी आरटीआई में ख़ुलासा किया है कि 2016 में एक लड़का और एक लड़की (will expose these two complainants in next article) द्वारा Master Shifuji के विरुद्ध दर्जनों निराधार झूठी शिकायतें दर्ज की गयीं थी और केंद्रीय agencies के द्वारा रक्षा मंत्रालय के सम्बंधित Intelligence departments के माध्यम से कई महीनों तक प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तारीख़ों से पूरी विस्तृत जांच (complete detailed investigation) जांच की गयी और यह पाया गया कि प्रत्येक direct और indirect investigation के अनुसार ग्रांड मास्टर शिफूजी एक असली कमांडोज मेंटॉर हैं और पिछले दो दशकों से भारतीय स्पेशल फ़ॉर्सेज़, आर्म्ड फ़ॉर्सेज़ को अपनी मिट्टी सिस्टम की निःशुल्क कमांडो ट्रेनिंग (free of cost commandos training) प्रदान करते हैं, और एक बड़ा ख़ुलासा यह भी हुआ की ग्रांडमास्टर शिफूजी Indian Armed Forces के उस्तादों (Tactical Instructors of The Armed Forces ) के भी महागुरु, महा उस्ताद हैं। लेकिन इसी व्यक्ति को हमारे कुछ भयानक विद्वान नेता और AltNews, IndiaToday, LallanTop वाले कुछ पत्रकार Fake Fraud साबित करने पर तुले हैं। यही हैं वो भारतीय जिनका नाम दुनिया के बड़े-बड़े Counter-Terrorism के Legends इज़्ज़त के साथ लेता हैं। 

legendary Grandmaster Shifuji Shaurya Bhardwaj challenge former cm akhilesh Yadav apa

ग्रांडमास्टर शिफूजी सर को London Post द्वारा- The Deadliest Man Alive In the World,,Washington Post द्वारा- The Greatest Counter Terrorism Mentor of all time, The New York Times Daily द्वारा- World’s Best Commandos Mentor,The Forbes Global News द्वारा- The Greatest and The World’s Best Tactical Close Combat Mentor of all time जैसे उपाधियां, सम्मानजनक स्थान दिए गए हैं, जो कि हर भारतीय नागरिक के लिए गर्व की बात होना चाहिए।

मैं कात्यायनी सिंघ यादव,अपनी आने वाली पीढ़ियों को इस महान,पागल,दलेर देशभक्त “ग्रांडमास्टर शिफूजी शौर्य भारद्वाज सर” के बारे में ज़रूर बताऊँगी, मैं इनके द्वारा निरंतर हिंदुस्तान के परचम को ऊंचा करने की कहानी और अपनी भारत माँ से निःस्वार्थ अखंड प्रेम की गाथा को गर्व के साथ अवश्य सुनाऊँगी। हम सभी देशभक्त युवा आपके क़र्ज़दार रहेंगे, legendary Grandmaster Shifuji Shaurya Bhardwaj Sir ।जय हिंद। 

नोट: यह लेखक के निजी विचार हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios