Asianet News HindiAsianet News Hindi

लखनऊ: बर्थ डे पार्टी की दावत बन गई जान की आफत, खराब खाना खाकर बीमार पड़े 70 लोग, जानिए क्या बोले डॉक्टर

यूपी के लखनऊ के मोहनलालगंज में गौरा गांव में बर्थ डे पार्टी का दूषित खाना खाकर कई लोग बीमार पड़ गए। वहीं बुधवार को बीमार लोगों की संख्या बढ़कर 62 हो गई है। जन्मदिन की पार्टी में करीब 100 लोगों ने दूषित खाना खाया था।

Lucknow Birthday party became a feast for life 70 people fell ill after eating bad food know what the doctor said
Author
First Published Nov 2, 2022, 6:13 PM IST

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज में बर्थ डे पार्टी में खराब खाना खाने के कारण बच्चे बीमार पड़ गए। गौरा गांव में बुधवार को बीमार पड़े बच्चों की संख्या बढ़ गई है। बता दें कि बुधवार को अस्पताल में भर्ती लोगों की संख्या बढ़कर 62 पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि इस बर्थ डे पार्टी में करीब 100 लोगों ने खाना खाया था। वहीं हालत ज्यादा बिगड़ने पर 17 लोगों को सिविल अस्पताल रेफर कर दिया गया है। सीएचसी से सिविल रेफर किए गए मरीजों में बच्चों की संख्या ज्यादा है। वहीं खाना बनाने वाले कारीगरों की भी तबियत खराब होने पर उन्हें सीएचसी में एडमिट कराया गया है। अस्पताल में एडमिट कुछ मरीजों को तेज बुखार आ गया। आशंका जताई जा रही है कि मरीजों की संख्या अभी और बढ़ सकती है।

बीमार मरीजों को आया तेज बुखार
सोमवार रात बर्थ डे पार्टी में खराब खाना खाने से बच्चे व महिलाओं समेत 70 लोग सबीमार पड़ गए। बताया जा रहा है कि गांव निवासी सनी रावत के एक साल के बेटे केसू का बर्थ डे था। इस मौके पर घर पर ही खाना बनवा कर दावत की गई थी। सोमवार से लेकर बुधवार तक बीमार होने का सिलसिला जारी रहा। इस दौरान खाना बनाने वाले कारीगर रंजीत, अंकित, विकास व जयप्रकाश के सीएएचसी में भर्ती हो गए हैं। वहीं हालत में सुधार नहीं होने और बुखार आने के बाद अतुल, मानसी, रजनीश, अनिमेश वैष्णवी, सनी, सरिता, माया, राजा, हिमांशी, विनीता, शिल्पी, बृजेश, आर्य़न, मोहिनी, अरुण और अमन को सिविल अस्पताल भेज दिया गया है। सीएचसी अधीक्षक डॉ. अशोक कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि मरीजों की डेंगू, मलेरिया की भी जांच की गई हैं। उन्होंने बताया कि ये सारी जांचे नॉर्मल आई हैं।

बर्थडे पार्टी का खाना खाकर हुए बीमार
डॉ. अशोक कुमार ने बताया कि बुखार आने की वजह से मरीजों के पेट में कोई गंभीर विषाणु हो सकता है। बता दें कि मोहनलालगंज के सीएचसी में तीस मरीजों को ही भर्ती करने की व्यवस्था है। ऐसे में बीमार पड़े लोगों के अचानक से अस्पताल पहुंचने की स्थिति में एक बेड पर दो-दो मरीजों को लिटाया गया है। वहीं सीएमओ ने इस मामले पर नाराजगी जताई है। सीएमओ ने सीएचसी परिसर में बने बाल महिला भवन में अन्य मरीजों को भर्ती कराया है। बताया जा रहा है कि गौरा गांव में इतने सारे लोगों के बीमार होने के पीछे गंदा पानी भी हो सकता है। बता दें कि गांव के पास से कई फैक्ट्रियों का गंदा पानी निकलता रहता है। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि खाने में इसी गंदे पानी का इस्तेमाल करने से लोग बीमार हो सकते हैं।

टी-20 टूर्नामेंट का उद्घाटन योगी जी ने कुछ इस अंदाज में किया, 10 फोटो में देखिए आज कहां क्या हुआ

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios