Asianet News HindiAsianet News Hindi

SBSP प्रमुख ओपी राजभर ने मैनपुरी में उतारा प्रत्याशी, कहा- अखिलेश यादव ने दिया तलाक, हमने कर लिया कुबूल

यूपी की मैनपुरी लोकसभा सीट के उपचुनाव में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने प्रत्याशी का ऐलान कर दिया है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने सुभासपा रमाकांत कश्यप को प्रत्याशी बनाया है।  

Mainpuri SBSP chief OP Rajbhar fielded candidate said Akhilesh Yadav gave divorce we have accepted
Author
First Published Nov 9, 2022, 6:56 PM IST

मैनपुरी: उत्तर प्रदेश में रामपुर, मैनपुरी, खतौली लोकसभा सीट पर होने वाले आगामी उपचुनाव में सभी पार्टियों ने कमर कस ली है। मैनपुरी लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव सांसद थे तो सपा ने अपने गढ़ को हाथ से नहीं जाने के लिए हर कोशिश कर रही है। वहीं मैनपुरी लोकसभा सीट के उपचुनाव में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी यानी सुभासपा ने ताल ठोंक दी है। बुधवार को सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने ऐलान कर दिया है। उन्होंने यहां से रमाकांत कश्यप को प्रत्याशी बनाया है और वह इटावा के रहने वाले हैं।

शिवपाल और अखिलेश को लेकर ओपी राजभर ने बोली ये बात
दरअसल पार्टी के प्रमुख ओपी राजभर बुधवार को किशनी क्षेत्र के गांव खिदरपुर पहुंचे और यहां मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान कहा कि अखिलेश यादव ने उन्हें तलाक दिया जो उन्होंने कुबूल कर लिया है। उन्होंने आगे कहा कि शिवपाल सिंह यादव और अखिलेश यादव की लड़ाई सिर्फ वर्चस्व की लड़ाई है। इसके अलावा उन्होंने आजम खान की विधानसभा की सदस्यता पर नियम के तहत कार्रवाई होने की बात भी कही। इसके अलावा उन्होंने आगामी चुनावों को देखते हुए संगठन की मजबूती पर काम कर रही है। इसके लिए सुभासपा ने सावधान यात्रा भी निकाली थी।

राजनीति में जातिगत जनगणना है बेहद जरूरी
ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि सुभासपा गरीब, शोषित और वंचित को न्याय दिलाने की लड़ाई लड़ती रहेगी। देश में एक संविधान होते हुए एक समान शिक्षा सभी को मिलनी चाहिए और राजनीति में हिस्सेदारी के लिए जातिगत जनगणना होना बहुत जरूरी है। इस वजह से देश में समान शिक्षा का अधिकार और सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ उनकी पार्टी लड़ाई लड़ती रहेगी। आने वाले निकाय चुनाव में पार्टी सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारकर चुनाव लड़ेगी। बता दें कि चुनाव आयोग के निर्देश के मुताबिक उपचुनाव के लिए दस नवंबर को अधिसूचना जारी कर दी जाएगी और उसके बाद नामांकन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। पांच को मतदान और फिर आठ दिसंबर को मतगणना होगी।

यूपी में सपा और रालोद मिलकर लड़ेंगे उपचुनाव, जानें अखिलेश-जयंत के खाते में आई कौन-सी सीट

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios