Asianet News HindiAsianet News Hindi

मैनपुरी उपचुनाव: SP प्रत्याशी डिंपल यादव ने दाखिल किया नामांकन पत्र, पार्टी के कई नेता रहे मौजूद

यूपी के मैनपुरी उपचुनाव में समाजवादी पार्टी ने डिंपल यादव को प्रत्याशी बनाया है। नेताजी की समाधि स्थल पहुंचकर उनका आर्शीवाद लेने के बाद उन्होंने कलेक्ट्रेट पहुंचकर नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। इस दौरान उनके साथ चार प्रस्तवाकों के साथ सपा प्रमुख अखिलेश यादव भी मौजूद रहे। 

Mainpuri SP candidate Dimple Yadav file nomination by election today these leaders including Akhilesh Yadav present
Author
First Published Nov 14, 2022, 9:52 AM IST

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के संस्थापक व पूर्व रक्षामंत्री मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई मैनपुरी लोकसभी सीट पर उपचुनाव होना है। समाजवादी पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी व नेताजी की बड़ी बहू डिंपल यादव को उम्मीदवार बनाया है। नामांकन से पहले डिंपल यादव ने सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव की समाधि स्थल पर पुष्प अर्पित कर उनका आर्शीवाद लिया। उसके बाद वह चार प्रस्तावकों समेत पति अखिलेश यादव के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचकर अपना नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। नामांकन को ध्यान में रखते हुए कलेक्ट्रेट पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं। इतना ही नहीं नामांकन के दौरान पार्टी के कई नेता भी उनके साथ मौजूद रहे।

नामांकन के दौरान अखिलेश समेत ये नेता रहेंगे मौजूद
पूर्व सांसद डिंपल यादव दोपहर करीब एक से दो बजे के बीच नामांकन दाखिल करेंगी। नामांकन की प्रक्रिया को देखते हुए कलेक्ट्रेट पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कराने के आदेश प्रशासन ने दिए हैं। सपा जिलाध्यक्ष आलोक शाक्य ने रविवार को दोपहर के बाद सपा कार्यालय पर मीडियाकर्मियों से बातचीत की। उन्होंने नामांकन के कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि डिंपल यादव के साथ सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ-साथ पार्टी के महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव, पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव और तेजप्रताप यादव आ रहे है। 

शिवपाल यादव के आने पर सपा जिलाध्यक्ष ने साध ली चुप्पी
मीडियाकर्मियों ने जब आलोक शाक्य से चाचा व प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के आने के बारे में पूछा तो उन्होंने ये कहते हुई चुप्पी साध ली कि परिवार एकजुट होकर चुनाव लड़ रहा है। बता दें कि साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में मैनपुरी लोकसभा सीट से मुलायम सिंह यादव सांसद चुने गए थे। बीते दस अक्टूबर को उनके निधन के बाद मैनपुरी सीट खाली हो गई है। इसके बाद चुनाव आयोग ने पांच नवंबर को उप चुनाव की घोषणा कर दी थी। उप चुनाव के लिए जारी अधिसूचना के अनुसार 10 नवंबर से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

मैनपुरी से डिंपल यादव को जिताने के लिए सपा ने बनाई खास रणनीति, पुरानी गलतियों से भी ली गई सीख

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios