Asianet News Hindi

सिर्फ इस वजह से गर्लफ्रेंड को मार दी गोली, पुलिस को बुलाकर किया सरेंडर

घटना वाराणसी की है जहां किसी विवाद के चलते होटल के मालिक ने अपनी गर्लफ्रेंड को गोली मार हत्या कर दी। महिला महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ की छात्रा थी। 

man kills alleged girlfriend by his gun in varanasi over a dispute
Author
Varanasi, First Published Jul 22, 2019, 1:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


वाराणसी: उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में काशी विद्यापीठ में पढ़ने वाली एक छात्रा की सोमवार भोर में चार बजे गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या का आरोप होटल के मालिक पर है। हत्या के बाद होटल के मालिक ने खुद पुलिस को फोन करके बुलाया और सरेंडर कर दिया। एसएसपी आनंद कुलकर्णी, सीओ अंकिता सिंह व फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर परिस्थितियों का जायजा लिया। आरोपी होटल मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

सिगरा थाना क्षेत्र में स्पोर्ट्स स्टेडियम के ठीक सामने अशोका होटल है। मंडुआडीह निवासी काशी विद्यापीठ की छात्रा श्वेता उर्फ लवलिका (23 वर्ष) रविवार की शाम घर से निकली थी लेकिन देर रात तक घर नहीं पहुंची। सोमवार सुबह उसकी हत्या की सूचना उसके परिजनों को मिली। पुलिस के अनुसार, श्वेता व होटल मालिक अमित सिंह के बीच दोस्ती थी। उसका होटल में आना जाना था और वो अक्सर काउंटर पर भी बैठती थी। मनोज ने अपने लाइसेंसी पिस्टल से लवलिका को गोली मारी है। अमित के अनुसार उन दोनों में किसी बात को लेकर बहस हुई और उसने फायरिंग कर दी। होटल स्टाफ ने बताया कि अमित सिंह 4:30 बजे के लगभग काउंटर से अपनी लाइसेंसी पिस्टल लेकर गए और 10 मिनट बाद फायरिंग की आवाज सुनाई दी। श्वेता की बाई कनपटी पर गोली मारी गई थी जो दाएं तरफ से निकल गई थी।

मां बाप की पहले ही हो चुकी है मौत

श्वेता के पिता मनोज सिंह यूपी पुलिस में कांस्टेबल थे और प्रतापगढ़ में तैनात थे। 3 वर्ष पूर्व वाराणसी में दशाश्वमेध घाट पर स्नान के उनकी डूबने से मौत हो गई थी। श्वेता की मां की भी मौत हो चुकी है और वह अपने दादा राम इकबाल सिंह के साथ यहां रहती थी। बड़ी बहन दीक्षा की शादी हो चुकी है और उसका छोटा भाई शिवम इंटर का छात्र है। मृतका के दादा रामइकबाल सिंह की तहरीर पर होटल मालिक अमित सिंह के खिलाफ सिगरा थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।

विवादों में है होटल अशोक 

सिगरा स्टेडियम के सामने बने होटल अशोक का विवादों से गहरा नाता रहा है। चार महीने पूर्व एक सिंधी व्यापारी के पुत्र का अपहरण कर इसी होटल के कमरे में कैद किया गया था। इसके पहले भी संचालक के परिवार में आपसी मतभेद से लम्बे समय तक होटल बन्द भी था।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios