Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP News: अयोध्या में हुआ सामूहिक विवाह समारोह, 3500 से अधिक जोड़ों का एक साथ कराया गया विवाह

यूपी के श्रम विभाग की ओर से शुक्रवार को राम की नगरी अयोध्या में सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन किया गया। इस विश्व के सबसे बड़े सामूहिक विवाह समारोह में 3915 से अधिक जोड़ों का एक साथ विवाह कराया गया। लापको बता दें की इससे पहले राजधानी  35 सौ जोड़ों का विवाह श्रम विभाग(Labour Department) द्वारा कराया गया था। जिसके बाद शुक्रवार को अयोध्या में हुए सामूहिक विवाह कार्यक्रम के बाद उसने अपना ही रिकॉर्ड तोड़ रहा है। 
 

Mass marriage ceremony held in Ayodhya, more than 3500 couples got married together
Author
Lucknow, First Published Nov 26, 2021, 6:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अयोध्या: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में रामनगरी कहे जाने वाले अयोध्या(ayodhya) में शुक्रवार को विश्व का सबसे बड़ा सामूहिक विवाह समारोह(mass marriage ceremony) का आयोजन किया गया। जिसमें 3915 जोड़ों का एक साथ विवाह कराया जा रहा है। आपको बता दें कि इससे पहले राजधानी लखनऊ(lucknow) में 35 सौ जोड़ों का विवाह श्रम विभाग(Labour Department) द्वारा कराया गया था। जिसके बाद शुक्रवार को अयोध्या में हुए सामूहिक विवाह कार्यक्रम के बाद उसने अपना ही रिकॉर्ड तोड़ रहा है। 

एक साथ तकरीबन 8 हजार युवक-युवतियों का हो रहा विवाह
 श्रम विभाग द्वारा आयोजित यह सामूहिक विवाहोत्सव कार्यक्रम में एक साथ श्रमिक परिवार के करीब आठ हजार लड़के लड़कियों का विवाह हो रहा है। प्रत्येक जोड़े के साथ दस से अधिक लोग आए हैं। कुल मिलाकर इस समारोह में करीब 50 हजार लोग उपस्थित हैं।

सीएम योगी पूरा कर रहे बच्चों का धूमधाम से विवाह कराने  का स्वप्न- स्वामी प्रसाद मौर्या
श्रम व सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या कहा कि आज के समय में श्रमिक परिवार के लोगों की भी इच्छा होती है कि उनके बेटे बेटियों का विवाह धूमधाम से हो, उनका यह स्वप्न प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में श्रम विभाग ने आज पूरा किया है। आज उनका विवाह राजा महाराजाओं के विवाह की तरह हो रहा है। इस दौरान करीब 50 हजार लोगों के भोजन का भी इंतजाम किया गया है। 

'श्रमिकों के लिए खास तौर पर चलाई गईं 17 योजनाएं'
स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सबका साथ, सबका विकास व सबका विश्वास के साथ काम किया जा रहा है। प्रदेश सरकार ने श्रमिकों के हित के लिए शिक्षा, स्वास्थ्य, विवाह, रोजगार के साथ दुर्घटना या स्वाभाविक मृत्यु पर आर्थिक सहायता जैसी करीब 17 योजनाएं चलाई जा रही है। इसके लिए कैंप लगाकर श्रमिकों का पंजीयन किया गया और उन्हें इसका लाभ दिलाया जा रहा है। बताया कि बीते साढ़े चार साल में श्रम विभाग ने करीब डेढ़ करोड़ श्रमिकों को लाभ उपलब्ध कराया है। उन्होंने इस समारोह में सहयोगी की भूमिका निभाने पर अमर उजाला का आभा जताते हुए कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ द्वारा सामाजिक दायित्व के प्रति अपना कर्तव्य निभाना सराहनीय है।

मुख्यमंत्री, मंत्री समेत जनप्रतिनिधियों ने दिया जोड़ों को आशीर्वाद
 श्रम विभाग के इस वृहद सामूहिक विवाह समारोह में अयोध्या परिक्षेत्र के पांच जिले अयोध्या, बाराबंकी, अंबेडकरनगर, अमेठी व सुलतानपुर के पंजीकृत श्रमिक बेटियों का विवाह कराया जा रहा है। इस समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत अन्य मंत्रियों व जनप्रतिनिधियों ने चार हजार के करीब जोड़ों को आशीर्वाद देते हुए उनके सुखद भविष्य का आशीर्वाद दिया। कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में श्रम विभाग व उ प्र भवन सवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा पंजीकृत श्रमिकों के लिए मातृत्व शिशु व बालिका मदद योजना, संत रविदास शिक्षा सहायता योजना, मेघावी छात्र पुरस्कार योजना, कन्या विवाह अनुदान योजना, आवास सहायता योजना समेत अन्य कई योजना चलाई जा रही है, जिसका लाभ उनको मिल रहा है। उन्होंने समारोह में सहयोगी बनने के लिए अमर उजाला का आभार जताया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios